हरियाणा के इस जिले में रिकॉर्ड बारिश से मौसम विज्ञानी हैरान, इन दो दिन और ज्‍यादा संभावना

करनाल | हरियाणा में देरी से आए मानसून ने सबसे ज्यादा करनाल जिले में बरसात दी है. तीन दिन में रिकार्ड 315 मिलीमीटर बरसात हुई है, जबकि जुलाई के महीने में अब तक 347.4 मिलीमीटर बरसात हुई है. यह औसत से 300 फ़ीसदी ज्यादा बरसात है. ताबड़तोड़ बरसात का यह सिलसिला अभी खत्म नहीं हुआ है.

हरियाणा

हरियाणा मौसम

मौसम विभाग के विशेषज्ञों के मुताबिक़ 18 व 19 जुलाई को फिर से हरियाणा के अलग अलग हिस्सों में तेज बरसात की संभावना जताई गई है.

इससे पहले, करनाल ने 15 जुलाई 1968 को 242 मिलीमीटर बरसात दर्ज की गई थी. रिकार्ड तोड़ बरसात को लेकर मौसम विशेषज्ञ भी हैरान हैं. उम्मीद से कई गुणा
ज्यादा बहुत ही कम समयावधि में हुई है. करनाल जिले में दो दिन पहले तक मानसून की बरसात सामान्य से 36 फ़ीसदी कम थी परंतु, लगातार चल रहे बरसात के सिलसिले ने आंकड़े सरप्लस होते दिखाई दे रहे हैं.

मौसम विभाग के मुताबिक़ दक्षिण-पश्चिम मानसून 13 जुलाई 2021 को करनाल के लिए देर से पहुंचा है. इसके बाद करनाल और इसके आस-पास के इलाकों में बहुत तेज़ गरज के साथ शहर के कई हिस्सों में पानी भर गया है. उत्तराखंड की तलहटी में एक टर्फ रेखा की मौजूदगी से करनाल में अगले 48 घंटों में और भारी बारिश होने की संभावना है. इसके 16 और 17 जुलाई को कम होने और 18 से 20 जुलाई के बीच फिर से तेज होने की संभावना है.

हमें Google News पर फॉलो करे- क्लिक करे! हरियाणा में कोरोना से जुडी ताज़ा खबरों के लिए अभी जाए कोरोना केस हरियाणा ताज़ा खबर पर.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *