सधे हुए अंदाज में चल रहे हरियाणा के सीएम मनोहर लाल, न अनिल विज को करेंगे नाराज और न टालेंगे दुष्यंत का आग्रह

चंडीगढ़ | आज कल हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल बड़े ही सधे हुए अंदाज में चल रहे हैं. यहां हम आपको मुख्य रूप से जानकारी दे दे कि सूत्रों का कहना है कि वह अब किसी भी मसले पर न तो पार्टी के सीनियर मंत्री अनिल विज को नाराज करना चाहते हैं और न ही भाजपा सरकार में साझीदार जजपा संयोजक दुष्यंत चौटाला को नाखुश करने के हक में नजर आते हैं.

हरियाणा

हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने रखा अपना पक्ष

ऐसे में हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने अपना पक्ष रखते हुए कहा है कि अनिल विज और दुष्यंत चौटाला दोनों ही प्रदेश की जनता का भला चाहते हैं. उनका कहना है कि दोनों ही सरकार का अभिन्न अंग हैं. यही वजह है कि अगर वह कोई जांच कराते हैं या फिर कोई सिफारिश करते हैं तो निसंदेह वह प्रदेश के भलाई में ही होगी.

haryana minister anil vij upset on jat issue

मान लिया गया अनिल विज का आग्रह 

ऐसे में सूत्रों के मुताबिक़ हरियाणा के मुख्यमंत्री ने एक सधे हुए राजनीतिज्ञ के समान जहरीली शराब पीने से हुई मौतों के मामले में एसआइटी की जांच रिपोर्ट अपने पास मंगवा ली है और साथ ही साथ में नए डीजीपी की नियुक्ति संबंधी अनिल विज का आग्रह भी काफी हद तक मान लिया है.

Dushyant Chautala

निलंबन की सिफारिश पर अब होगी कार्यवाही

26 02 2021 manohardust 21407600

इसके अतिरिक्त मुख्यमंत्री ने डिप्टी सीएम दुष्यंत चौटाला की तरफ से एक सीनियर आइएएस अधिकारी के खिलाफ़ लिखे गए पत्र पर भी गंभीरता पूर्वक विचार करते हुए उनके खिलाफ अनुशासनात्मक कार्रवाई का अब मन बना लिया है. दुष्यंत चौटाला सरकार में हिस्सेदार हैं. सूत्रो का कहना है कि दुष्यंत की ओर से इस अधिकारी के खिलाफ लिखे दोनों पत्र मुख्य सचिव विजय वर्धन को भेज दिए थे. हालंकि, अब इन पर गंभीरता पूर्वक विचार किया जा रहा है. ऐसे में निलंबन की सिफारिश पर अब कार्यवाही की जा सकती है.

हमें Google News पर फॉलो करे- क्लिक करे! हरियाणा में कोरोना से जुडी ताज़ा खबरों के लिए अभी जाए कोरोना केस हरियाणा ताज़ा खबर पर.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *