CLAT Result 2022: पानीपत की बेटी खुशी ने हासिल की 9वीं रैंक, सेशन जज से प्रेरित होकर शुरू की थी तैयारी

पानीपत | देशभर के क्लैट परीक्षा के उम्मीदवारों का इन्तजार खत्म हो गया है. नेशनल लॉ युनिवर्सिटी कन्सॉर्टियम (NLUs) द्वारा क्लैट परीक्षा परिणाम घोषित कर दिया गया है. जिसके बाद परीक्षा में पास होने वाले सभी परीक्षार्थी आधिकारिक वेबसाइट consortiumofnlus.ac.in पर अपना परीक्षा परिणाम चेक कर सकते है. वही इस बार क्लैट की परीक्षा में पानीपत की खुशी ने देशभर में 9वीं रैंक हासिल की है. पानीपत की बेटी खुशी की इस उपलब्धि ने प्रदेश का नाम रोशन कर दिया.

news 2 1

बता दें गोशाला मंडी की खुशी अग्रवाल ने क्लैट (कामन ला एडमिशन टेस्ट) में देशभर में नौंवा रैंक हासिल कर पानीपत का नाम रोशन किया है. मालूम हो क्‍लैट की परीक्षा 19 जून को देशभर में आयोजित की गई थी. इस परीक्षा में कुल 150 प्रश्न पूछे गए थे. जिसमे 120 मिनट का समय दिया गया था. इसी परीक्षा में हरियाणा राज्य के पानीपत शहर की बेटी खुशी ने नौवीं रैंक लेकर अपने परिवार समेत शहर का भी नाम रोशन कर दिया..

पड़ोस के जज से हुई प्रेरित

खुशी ने एक समाचार- पत्र को दिए गए इंटरव्यू में बताया कि उन्होंने अपने पड़ोस में रहने वाले रिटायर्ड सेशन जज से प्रेरित होकर इस परीक्षा की तैयारी शुरू की. दरअसल, उनका रुतबा देखकर खुशी ने जज बनने का सपना देखा और इस परीक्षा की तैयारी में जुट गई और परीक्षा में अच्छी रेंक हासिल की. खुशी के पिता ने बताया उन्होने बेटी को पढ़ाई के लिए प्रेरित किया. कभी भी उन्होंने अपनी बेटी को परीक्षा में कम अंक आने पर भी कुछ नहीं कहा. लगातार वो बेटी को मेहनत करने के लिए प्रेरणा देते रहे.

खुशी के पिता योगेश कुमार पेशे से इलेक्ट्रानिक्स गुड्स के व्यापारी है. जबकि माँ निशा गृहिणी है. वही खुशी का बड़ा भाई राघव बीबीएम कर रहा है. खुशी ने अपनी दसवीं तक की पढ़ाई सैंटमैरी स्कूल से 98.2 प्रतिशत अंक लेकर पास की, जबकि 12वीं की पढ़ाई एसडीवीएम से पूरी की.

हर रोज करती थी 7 घंटे पढ़ाई

कैरियर लांचर के विकास बत्रा ने बताया कि डेढ़ साल से खुशी का लक्ष्य क्लैट में अच्छे रैंक से पास होने का था। वह लक्ष्य के प्रति ईमानदार रही और सफलता हासिल कर ली. इसके लिए खुशी हर रोज करीब 7 घंटे पढ़ाई करती थी, इसके अलावा माँ का भी घर के कार्यो में हाथ बंटाती थी. खुशी ने बताया उन्होंने कभी भी रैंक के बारे में नहीं सोचा था, ;लेकिन अच्छी रैंक आने पर ये जरूर था कि उनको कालेज में दाखिला मिल जायेगा. ऐसे में खुशी ने मेहनत से पीछे नहीं हटी. और अंत में सफलता हासिल की. जिसकी हर ओर तारीफ हो रही है.

हमें Google News पर फॉलो करे- क्लिक करे! हरियाणा से जुडी ताज़ा खबरों के लिए अभी जाए Haryana News पर.