रेल यात्री सावधान: 31 मई को देशभर में नहीं चलेंगी ट्रेन, जानें क्या है वजह

नई दिल्ली | यदि आप 31 मई को ट्रेन से कही जाने का प्लान बना रहे है तो थोड़ा ठहरिये ! दरअसल, 31 को देशभर में रेल के पहिये थम सकते है. जिसकी वजह स्टेशन मास्टर (Station Master) की हड़ताल होना है. जी हाँ अगर सरकार ने समय रहते मांग पूरी नहीं की तो आगामी 31 दिसंबर को देशभर के स्टेशन मास्टर एकदिवसीय हड़ताल (Station Masters Strike ) करेंगे. इसका ऐलान रेलवे के सभी स्टेशन मास्टर सामूहिक रूप से पहले ही कर चुके है. जिसकी वजह से यात्रियों की रेल यात्रा प्रभावित होगी.

Indian Railway Train

बता दें रेलवे की उदासीनता की वजह से देशभर के करीब 35 हजार स्टेशन मास्टर ने रेलवे बोर्ड को एक नोटिस थमा दिया है. जिसमें उन्होंने 31 मई को पूरे देश में सामूहिक रूप से हड़ताल करने की बात कही है. रेलवे मास्टरों ने सरकार से 31 मई से पहले अपनी मांगो को पूरी करने की बात कही है. लेकिन इसके ऊपर अभीतक कोई सुनवाई नहीं की गयी. जिसके बाद अब जाकर सभी रेलवे मास्टरों ने हड़ताल करने का निर्णय लिया है.

ये है हड़ताल की वजह

दरअसल, रेल मास्टरों के इन हड़ताल की वजह से हजारों स्टेशन मास्टरों की कमी होने के बावजूद पदों पर भर्ती नहीं करना है. ऑल इंडिया स्टेशन मास्टर्स एसोसिएशन (All India Station Masters Association) के अध्यक्ष धनंजय चंद्रात्रे ने बताया देशभर में इस समय करीब 6,000 से भी ज्यादा स्टेशन मास्टरों की कमी है और ऐसे में रेल प्रशासन (Railway Administration) इन पदों पर भर्तियां नहीं कर रहा है.

ट्रेंडिंग-  LIC WhatsApp Services: बीमाधारकों के लिए खुशखबरी, व्हाट्सऐप पर मिलेगी पॉलिसी की डिटेल

जिसके चलते स्टेशन मास्टरों को परेशानी हो रही है. क्यूंकि इस समय देश के आधे से ज्यादा स्टेशनों पर महज सिर्फ 2 ही स्टेशन मास्टर पोस्टेड हैं. जबकि स्टेशन मास्टर की ड्यूटी एक स्टेशन पर महज 8 घंटे की होती है. इस हिसाब से एक स्टेशन पर 3 स्टेशन मास्टर होने चाहिए. लेकिन सरकार के भर्ती नहीं करने की वजह से और स्टेशनों पर स्टेशन मास्टरों की कमी के चलते हमे 12 घंटे की ड्यूटी देनी पड़ रही है. ऐसे में हमे बेहद परेशानी का सामना करना पड़ रहा है.

ट्रेंडिंग-  आज से बदल गए ये 4 नियम, बैंकिंग नियमों से लेकर से LPG कीमत; CNG-PNG की कीमत में बदलाव

वही, ऐसे में यदि किसी स्टेशन मास्टर का साप्ताहिक अवकाश (Week Off) होता है तो उसकी जगह किसी दूसरे को बुलाना पड़ता है. जिसके चलते ऑल इंडिया स्टेशन मास्टर्स एसोसिएशन (All India Station Masters Association) के अध्यक्ष धनंजय चंद्रात्रे में कहा हमारे पास हड़ताल करने के अलावा कोई दूसरा रास्ता नहीं है. ऐसे में हमने यही फैसला लेना उचित समझा.

ट्रेंडिंग-  आज से बदल गए ये 4 नियम, बैंकिंग नियमों से लेकर से LPG कीमत; CNG-PNG की कीमत में बदलाव

बता दें एक मीडिया चैनल की रिपोर्ट के अनुसार स्टेशन मास्टरों का कहना है कि ये फैसला हमें अचानक नहीं लिया. ऑल इंडिया स्टेशन मास्टर्स एसोसिएशन (All India Station Masters Association) अक्टूबर 2020 से अपनी मांगो को लेकर संघर्ष कर रहा है, लेकिन रेल प्रशासन ने अभीतक उनकी मांगो की सुनवाई नहीं की. जिसके बाद हमने अब जाकर हड़ताल करने का एलान किया है.

हमें Google News पर फॉलो करे- क्लिक करे! हरियाणा से जुडी ताज़ा खबरों के लिए अभी जाए Haryana News पर.