New Wage Code 2022: न्यू वेज कोड लागू करने को लेकर सरकार की तैयारी पूरी, 26 राज्यों ने जारी किये ड्राफ्ट

नई दिल्ली, New Wage Code 2022 | न्यू वेज कोड लागू किये जाने को लेकर काफी चर्चाएं चल रही है. सरकार की भी इसकी लेकर पूरी तैयारी है और साल 2022 में इसे लागू करने की पूरी प्लानिंग है, लेकिन अभी इसकी कोई फाइनल डेट सामने नहीं आई है. बीते कुछ दिनों से इसे 1 जुलाई से लागू करने की बात कही जा रही थी, जबकि इतनी जल्दी वेज कोड को लागू करने का सवाल ही नहीं है, क्यूंकि सरकार की ओर से भी अभी इसको लागू करने को लेकर कोई नोटिफिकेशन जारी नहीं किया गया है.

PM Modi

जानकारों के मुताबिक न्यू वेज कोड में चार लेबर कोड (New Labour Code) लागू होने है. इसमें राज्य के ड्राफ्ट इनपुट पर चर्चा की जा रही है. फ़िलहाल अभीतक केवल 26 राज्यों ने ड्राफ्ट जारी किये है. जिसके बाद उम्मीद लगाई जा रही है कि बहुत जल्द अब न्यू वेज कोड को लेकर नोटिफिकेशन जारी किया जा सकता है.सरकार पिछले 2 साल से इसे लागू करने पर विचार कर रही है, लेकिन आम सहमति और ड्राफ्ट में होने वाले बदलावों के चलते इसमें देरी हो रही है, परंतु इस साल 2022 में इसे जरूर लागू किया जाना है. इसको लेकर सरकार ने भी पूरी तैयारी कर ली है. नए लेबर कोड को साल 2019 में संसद में पारित किया जा चुका है.

दूसरी ओर न्यू वेज कोड को लेकर कई मीडिया में चर्चा है कि 1 जुलाई से इसे लागू किया जा सकता है, परंतु ये सभी जानकारियां झूठी थी. सरकार की ओर से इस तरह की ऐसी कोई घोषणा नहीं की गई है, क्यूंकि कोई भी पॉलिसी जारी होने से करीब 15 दिन पहले सरकार की ओर से सूचना जारी कर दी जाती है. वही केंद्र की मोदी सरकार नए श्रम कानूनों (New wage Code) में कुछ बदलाव कर रही है. जिसमे एक बार फिर सैलरी स्ट्रक्चर बदलने की तैयारी की जा रही है. इसके अलावा चार अन्य नए लेबर कोड में बदलाव होने से राहत की उम्मीद जागी है. आइये जान लेते है किन चार नए कोड में बदलाव किया गया है.

ट्रेंडिंग-  रेलवे का बड़ा फैसला: देश में सितंबर से दौड़ेगी 23 नई ट्रेनें, इन यात्रियों को मिलेगा फायदा

इन नए चार कोड में बदलाव

1.वीकली ऑफ़ – लेबर कोड में बदलाव करते हुए वीकली ऑफ को भी शामिल किया गया है. जिसके अंतर्गत 3 दिनों का वीकली ऑफ़ दिया जा सकता है. यानि अब किसी भी कर्मचारी को हफ्ते में 48 घंटे काम करना होगा, यानि आपको काम उतना ही करना है, परन्तु ऑफिस हफ्ते में 5 की जगह 4 दिन आना होगा.

ट्रेंडिंग-  Indian Railway: रेल टिकट में Senior Citizen को फिर मिलने जा रही छूट, लेकिन इस बार लागू होगा ये नया नियम

2. तक होम सैलरी – नये वेज कोड के लागू होने के बाद टेक होम सैलरी की सुविधा हो जाएगी, यानि इन कर्मचारियों की इन हेंड सैलरी पहले की तुलना में कम हो जाएगी. नियम के मुताबिक बेसिक सैलरी या टोटल सैलरी (CTC) का 50 % या उससे अधिक होना चाहिए.

ट्रेंडिंग-  SBI ग्राहकों को मिला ये शानदार तोहफा, बैंक ने शुरू की उत्सव जमा स्कीम

3. लंबी छुट्टियां – नया लेबर कोड जारी होने के बाद आप लंबी छुट्टी ले सकेंगे. पहले लंबी छुट्टी लेने के लिए हमे अधिक काम करना पड़ता था, परंतु अब ऐसा नहीं होगा. अब आप 180 दिन (6 महीना) काम करने के बाद लंबी छुट्टी ले सकेंगे, जबकि पहले साल में 240 दिन काम करने के बाद लंबी छुट्टी मिलती थी.

4. PF योगदान – न्यू वेज कोड के आ जाने से कर्मचारियों का पीएफ भी बढ़ेगा. यानि अगर आपकी बेसिक सैलरी ज्यादा होगी तो आपका पीएफ योगदान (Contribution) बढ़ जायेगा. इससे फायदा यह होगा की रिटायरमेंट के समय कर्मचारियों को अच्छी खासी पीएफ रकम मिलेगी. इसके साथ ही ग्रेज्युटी का पैसा भी ज्यादा आएगा.

हमें Google News पर फॉलो करे- क्लिक करे! हरियाणा से जुडी ताज़ा खबरों के लिए अभी जाए Haryana News पर.