UGC का बड़ा अपडेट: खत्म हो सकता है JEE और NEET पैटर्न, अब CUET से होगा इंजीनियरिंग और मेडिकल में एडमिशन

नई दिल्ली | अब बहुत जल्द इंजीनियरिंग और मेडिकल परीक्षाओं में प्रवेश के लिए आयोजित होने वाली परीक्षाएं JEE और NEET पैटर्न खत्म होने जा रहा है. विश्वविद्यालय अनुदान आयोग (UGC) की ओर से ये फैसला लिया गया है. रिपोर्ट्स के मुताबिक, अब CUET के जरिये इंजीनियरिंग और मेडिकल में एडमिशन होगा.

Haryana School Students

इसको लेकर यूनिवर्सिटी ग्रांट्स कमीशन (UGC) को एक लेटेस्ट प्रस्ताव भेजा गया है. यदि इस प्रस्ताव को स्वीकार कर लिया गया तो नीट और जेईई मेन्स एग्जाम को हाल ही में लॉन्च किए गए कॉमन यूनिवर्सिटी एंट्रेंस टेस्ट (CUET) के साथ मिलाया जा सकता है. इसको लेकर सीयूईटी (CUET) इस विषय में विशेषज्ञों की एक समिति बनाने की तैयारी कर रहा है. जिसके बाद सीयूईटी (CUET) सभी टेस्ट के लिए के टेस्ट बन जायेगा.

मीडिया रिपोर्ट्स का कहना है कि शुक्रवार को यूजीसी के अध्यक्ष एम जगदीश कुमार ने जानकारी देते हुए बताया कि जेईई मेंस (JEE Main) और नीट (NEET) को सीयूईटी (CUET) के अंतर्गत लाने पर विचार किया जा रहा है. इससे छात्रों पर पड़ने वाला मल्टिपल एंटरेंस एग्जाम का बोझ कम होगा. उन्होंने बताया यह विचार पूरी तरह से राष्ट्रीय शिक्षा नीति, 2020 के अनुरूप है. जानकारी के लिए बता दें वर्तमान में सीयूईटी के जरिये सेंट्रल यूनिवर्सिटीज में अंडरग्रेजुएट और पोस्टग्रेजुएट कोर्सेज के एंट्रेस एग्जाम कराये जाते है.

मालूम हो हर साल देशभर के इंजीनियरिंग कॉलेज में दाखिले के लिए जेईई मेन परीक्षा का आयोजन कराया जाता है. जबकि नीट परीक्षा का आयोजन देशभर के विभिन्न मेडिकल कॉलेज में एडमिशन के लिए आयोजित होता है. नीट में छात्रों के पास बायोलॉजी, फिजिक्स और केमिस्ट्री होती है तो जेईई में बायोलॉजी की जगह मैथ्स आ जाती है. ऐसे में दो विषय इन परीक्षाओं में कॉमन होते है. जिन्हे विभिन्न यूनिवर्सिटी में एडमिशन के लिए सीयूईटी (CUET) के लिए प्रयोग किया जा सकता है. इसी के चलते मल्टिपल एंटरेंस एग्जाम के बजाय सिंगल एंट्रेंस एग्जाम के आयोजन पर विचार किया जा रहा है.

हमें Google News पर फॉलो करे- क्लिक करे! हरियाणा से जुडी ताज़ा खबरों के लिए अभी जाए Haryana News पर.