हरियाणा के गृह मंत्री अनिल विज के तेवर एक बार फिर हुए तीखे, गृह सचिव के कामकाज पर उठाया सवाल

नई दिल्ली | हरियाणा के गृहमंत्री अनिल विज के तेवर एक बार फिर तीखे होते हुए नज़र आ रहे हैं. बता दें कि इस बार भी विज ने अफसरशाही में कामकाज के प्रति ढीले रवैये के खिलाफ अपना नजरिया प्रकट किया है. इस दौरान विज ने अपने ही महकमे के अतिरिक्त मुख्य सचिव राजीव अरोड़ा के कार्यालय में लंबित फाइलों को लेकर मुख्य सचिव को पत्र लिखा है. ऐसे में हम आपको मुख्य रूप से जानकारी दें दे कि इससे पहले विज सीआइडी को अपने मंत्रालय के अधीन बताते हुए विभाग के प्रमुख से रिपोर्ट उन्हें करने का मुद्दा उठा चुके हैं.

हरियाणा

दरअसल, यह मुद्दा तब खत्म हो गया जब सीएम मनोहर लाल ने सीआइडी का विभाग गृह मंत्रालय से हटाकर अपने अधीन कर लिया. बीते दिन को शुरू हुए मुख्यमंत्री मनोहर लाल के दिल्ली दौरे के दौरान ही अनिल विज भी राष्ट्रीय राजधानी पहुंच गए थे. ऐसे में सूत्रो के हवाले से खबर है कि उन्होंने शीर्ष नेतृत्व के समक्ष राज्य में बेलगाम अफसरशाही के अनेक उदाहरण रखे.

गृहमंत्री विज का मुख्यमंत्री कार्यालय के अधिकतर अधिकारियों से 36 का ही आंकड़ा रहा है. वे इन अधिकारियों के बारे में कई बार सार्वजनिक रूप से बोल चुके हैं, किंतु इस बार उन्होंने पार्टी नेतृत्व के समक्ष भी यह मुद्दा उठाया है. विज बीते दिन वापस अपने गृहक्षेत्र अंबाला के लिए रवाना हो गए है. इस बीच उन्होंने किसान संगठनों के आंदोलन में फैली अराजकता से लेकर अपने महकमे स्वास्थ्य, शहरी स्थानीय निकाय की उपलब्धियों पर खुलकर मीडिया से बात की, परन्तु वे गृह सचिव के खिलाफ लिखे पत्र पर चुप ही रहे.

हमें Google News पर फॉलो करे- क्लिक करे! हरियाणा में कोरोना से जुडी ताज़ा खबरों के लिए अभी जाए कोरोना केस हरियाणा ताज़ा खबर पर.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *