अग्निपथ योजना: 24 जून से अग्निवीरों के पहले बैच की भर्ती प्रक्रिया शुरू, जानें आवेदन से चयन तक पूरी डिटेल्स

नई दिल्ली | देश के कई राज्यों में अग्निपथ योजना (Agneepath Scheme) को लेकर विरोध प्रदर्शन जारी है. इसी बीच सरकार ने अग्निवीरों के पहले बैच की भर्ती प्रक्रिया को शुरू करने का एलान कर दिया है. रविवार 19 जून, को सेना के शीर्ष अधिकारियो ने एक प्रेस कांफ्रेंस आयोजित कर बताया कि 24 जून से अग्निवीरों के पहले बैच की रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया शुरू की जायेगी. इसके ठीक एक महीने बाद अगले महीने 24 जुलाई से ऑनलाइन एग्जॉम भी शुरू हो जायेंगे. नौसेना भी 25 जून तक भर्ती प्रक्रिया के लिए विज्ञापन सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय को भेजेगा. ठीक एयरफोर्स की तरह ही नेवी की भी ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया होगी.

Indian Army

अग्निवीरों के लिए होंगी 83 भर्ती रैलियां

भारतीय वायुसेना की तरफ से एयर मार्शल एसके झा ने बताया कि आईएएफ में 24 जून से भर्ती प्रक्रिया शुरू हो जाएगी. इस विषय में नोटिफिकेशन जारी कर दिया जायेगा. इसके साथ ही अग्निवीरों की भर्ती के लिए भारतीय सेना अग्निपथ योजना के तहत करीब 40 हजार अग्निवीरों की भर्ती के लिए 83 रैलियां आयोजित करेगा. खबरों के मुताबिक अग्निवीरों के दूसरे बैच को अगले साल फरवरी तक सेना में शामिल किया जाएगा. जबकि करीब 25 हजार अग्निवीरों का पहला दिसंबर महीने में सेना में शामिल होगा. बता दें अग्निपथ योजना के तहत भर्ती रैलियां अगस्त, सितंबर और अक्टूबर में पूरे भारत में होगी.

महिला और पुरुष दोनों की भर्ती

भारतीय वायुसेना की तरफ से एयर मार्शल एसके झा ने यह भी बताया कि हम अग्निपथ योजना के तहत पुरुष और महिला दोनों की भर्ती कर रहे है. 21 नवंबर को अग्निवीरों का पहला बैच ट्रेनिग सेंटर्स पर रिपोर्ट करने लगेगा. वही भारतीय नौसेना अग्निपथ योजना के तहत जून तक भर्ती के ब्योरे के साथ आएगी.

ट्रेंडिंग-  SBI ग्राहकों के लिए जरूरी खबर, बैंक ने Yono एप के नियम में किया बड़ा बदलाव

दिसंबर तक एनरोल होगा पहला बैच

उन्होंने बताया दिसंबर के अंत तक अग्निवीरों के पहले बैच को एनरोल कर लिया जायेगा और इसके बाद 30 दिसंबर से पहले बैच की ट्रेनिंग शुरू हो जायेगी. अग्निपथ योजना के तहत वायुसेना की रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया 24 जून को शुरू होगी. जबकि ऑनलाइन एग्जाम प्रोसेस 24 जुलाई को प्रारंभ किया जायेगा. ‘अग्निवीरों’ की सेवा शर्तें नियमित सैनिकों के जैसी ही होंगी.

ट्रेंडिंग-  कोटक महिंद्रा बैंक ने बढ़ाई FD पर ब्याज दरें, देखें क्या है नई रेट

1 लाख भर्ती का लक्ष्य

लेफ्टिनेंट जनरल पुरी ने प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान कहा कि केंद्र योजना का विश्लेषण करने के लिए सेना के 46 हजार उम्मीदवारों की भर्ती के साथ शुरुआत करेगा. वही अगले 4-5 सालों में हमारे हमारे सैनिकों की भर्ती करीब 50 हजार से 60 हजार होगी जो कि बाद में बढ़कर 90 हजार से 1 लाख हो जाएगी. हमने बुनियादी क्षमता निर्माण और योजना का विश्लेषण के उद्देश्य से छोटी शुरुआत की है.

अग्निवीरों को मिलेंगे ये फायदे

  • अग्निवीरो को साल में 30 पेड लीव मिलेंगी.
  • ट्रेनिंग के दौरान सरकारी स्वास्थ्य सेवाओं का लाभ
  • अग्निवीरों को सेवा के पहले साल 30 हजार रुपये सैलरी दी जायेगी. जिनमे जिनमें से 21 हजार सीधे खाते में और 9000 हजार रुपये अग्निवीर कॉर्प्स फंड में ट्रांसफर होंगे.
  • सेना में सेवा के बाद रक्षा मंत्रालय में 10 फीसदी आरक्षण
  • ट्रेनिंग के दौरान 48 लाख का लाइफ इंश्योरेंस
  • अग्निवीरों को केंद्रीय सशस्त्र पुलिस बलों (CAPF) और असम राइफल्स में भर्ती के लिए 10 प्रतिशत आरक्षण मिलेगा.
  • अग्निवीरों की आयु सीमा 21 वर्ष से बढ़ाकर 23 वर्ष कर दी गई है.
ट्रेंडिंग-  7th Pay Commission: केंद्रीय कर्मचारियों के DA पर आया बड़ा अपडेट, इस महीने में होगा डीए बढ़ोतरी का एलान

आपको बता दें अग्निपथ योजना को लागू करने के बाद से देशभर में विरोध प्रदर्शन देखने को मिल रहे है. इस दौरान प्रदर्शनकारियो युवाओं ने ट्रेनें, बसें और गाड़ियों को आग के हवाले कर दिया पथराव भी किया. अग्निपथ योजना को लेकर बिहार से उठी विरोध की चिंगारी 11 राज्यों में फैल चुकी है. जिनमें यूपी, दिल्ली, हरियाणा, हिमाचल प्रदेश, उत्तराखंड, मध्यप्रदेश, जम्मू-कश्मीर, झारखंड, राजस्थान , तेलंगाना, ओडिशा, और पश्चिम बंगाल शामिल है. इस बीच प्रदर्शनकारी युवाओ की गिरफ्तारी भी जारी है.

हमें Google News पर फॉलो करे- क्लिक करे! हरियाणा से जुडी ताज़ा खबरों के लिए अभी जाए Haryana News पर.