केंद्रीय कर्मचारियों के लिए बड़ी खबर, 7th Pay Commission के बाद अब 8वें वेतन आयोग पर आया बड़ा अपडेट

नई दिल्ली, 7th Pay Commission | आज जो हम खबर आपको बताने जा रहे है वो केंद्रीय कर्मचारियों के लिए काम की खबर होगी. बीते कई दिनों से इस बात पर चर्चा चल रही है कि केंद्रीय कर्मचारियों के लिए अगला वेतन आयोग लाएगी या नहीं? आने वाले समय में सैलरी पर कौनसा फार्मूला लागू होगा. इस तरह के कई सवाल सामने आ रहे थे. जिसपर अब जवाब आ गया है. दरअसल, अभीतक सभी सरकारी केंद्रीय कर्मचारियों की सैलरी सातवें वेतन आयोग (7th Pay Commission) के तहत बन रही है. इसके साथ ही इस वेतन आयोग के अंतर्गत कर्मचारियों को महंगाई भत्ते (Dearness Allowance) का भी फायदा मिल रहा है. लेकिन अब सरकार ने 8वें वेतन आयोग (8th Pay Commission) के तहत एक बड़ा अपडेट दिया है.

ट्रेंडिंग-  Indian Navy Day 2022: भारतीय नौसेना का इतिहास, जानिए क्यों और कैसे हुई नौसेना दिवस की शुरुआत

Salary Rupee

सरकार इस योजना पर कर रही तैयारी

बताया जा रहा है सरकार जल्द केंद्रीय कर्मचारियों की सैलरी पर नया फार्मूला ला सकती है. गौरतलब है इससे पहले भूतपूर्व वित्त मंत्री अरुण जेटली (Arun Jaitley) ने जुलाई 2016 में ही कहा था- ‘अब वेतन आयोग (Pay Commission) से हटकर कर्मचारियों की सैलरी बढ़ाने के लिए कोई नया पैमाना आना चाहिए.’ वित्त मंत्रालय (Finance ministry) के सूत्रों के मुताबिक, सरकार अब केंद्रीय कर्मचारियों के लिए नया वेतन आयोग लाने के पक्ष में नहीं है. परंतु वित्त मंत्रालय  (Finance ministry) के सूत्रों के मुताबिक सरकार केंद्रीय कर्मचारियों के लिए नया वेतन आयोग नहीं लेकर आयेगी. इसके अलावा सरकार  कर्मचारियों के लिए ऐसी व्यवस्था लेकर आना चाहती है, जिसमे कर्मचारियों की परफॉर्मेंस के आधार पर उनकी सैलरी बढ़ाई जायेगी.

फ़िलहाल अभी 7वें वेतन आयोग अगला वेतन आयोग यानि 8वां वेतन आयोग लाना मुश्किल है. ऐसे में रिपोर्ट्स के मुताबिक सरकार कुछ ऐसा फार्मूला लाना चाहती है जिसमे 68 लाख केंद्रीय कर्मचारी और 52 लाख पेंशनधारकों को 50 % से ज्यादा DA होने पर सैलरी में ऑटोमैटिक रिविजन हो जाए. सरकार इसके लिए ‘ऑटोमैटिक पे रिविजन सिस्टम’ बनाना चाहती है. लेकिन कर्मचारियों का कहना है हर दिन महंगाई बढ़ रही है. ऐसे में साल 2016 से चली आ रही सिफारिशों से उनके लिए गुजारा करना बहुत मुश्किल होगा.हालांकि सरकार की ओर से अभी इसपर कोई अंतिम फैसला नहीं लिया गया है.

हमें Google News पर फॉलो करे- क्लिक करे! हरियाणा से जुडी ताज़ा खबरों के लिए अभी जाए Haryana News पर.