Chanakya Niti: भूलकर भी नहीं अपनाये ये 5 आदतें, आर्थिक तंगी का करना पड़ सकता है सामना

Chanakya Niti | आचार्य चाणक्य (Chanakya Niti) और उनकी नीतियों को दुनियाभर में पसंद किया जाता है. आचार्य चाणक्य को ‘कौटिल्य; के नाम से भी पहचाना जाता है. कहा जाता है कि उनकी नीतियों का प्रभाव इतना ज्यादा था कि नंद वंश का नाश भी इन्हीं से हुआ था. इतना ही नहीं चाणक्य की नीति और रणनीति के आधार पर ही साधारण से बालक चंद्रगुप्त मौर्य (Chandragupta Maurya) ने मगध पर राज किया था. आचार्य चाणक्य की नीतियां ही मनुष्य को सफल और असफल होना का रास्ता दिखाती है. वही कुछ गलत आदते हमे काफी नुकसान भी पहुंचा सकती है. जिसके चलते हमे आर्थिक तंगी का भी सामना करना पड़ सकता है. आज हम आपको आचार्य चाणक्य नीति की कुछ ऐसी बातें बताने जा रहे जिनको करने से आपको इसके बुरे परिणाम भुगतने पड़ सकते है-

Chanakya Niti

chanakya niti

बुरे वचन – चाणक्य नीति के अनुसार हमे कभी भी किसी से बुरे वचन नहीं बोलने चाहिए. व्यक्ति को हमेशा बोलते समय अपनी वाणी पर ध्यान देना चाहिए. ताकि जल्दबाजी में हमारे मुख से कोई गलत वचन नहीं निकल जाये. वही जो लोग कड़वे वचन दुसरो के निकालते है, उनको कभी सम्मान और धन की प्राप्ति नहीं होती. ऐसे घर में माँ लक्ष्मी भी वास नहीं करती. एक मधुर वाणी किसी भी व्यक्ति को अपनी ओर आकर्षित और खुश कर सकती है. इसलिए हमेशा अपनी वाणी से अच्छे बोल ही बोलने चाहिए.

देर से सोकर उठना – चाणक्य नीति में बताया गया है कि जिस घर में लोग देर से सोकर उठते है, उन्हें आर्थिक तंगी का सामना करना पड़ता है. इसके साथ ही देर से सोकर उठने से घर में नेगेटिव ऊर्जा का संचार भी होता है. साथ ही घर में कलह भी बना रहता है. जिसके चलते जल्दी उठना चाहिए. और अगर ऐसा रोजाना संभव नहीं हो तो हफ्ते में कम से कम तीन बार जरूर जल्दी उठे.

आर्थिक तंगी का जिक्र – चाणक्य नीति के मुताबिक कभी भी आर्थिक तंगी होने पर उसका जिक्र किसी के सामने नहीं करना चाहिए. इस बात की जानकारी सिर्फ हमे अपने जीवनसाथी के अलावा किसी के साथ शेयर नहीं करनी चाहिए. चाणक्य का कहना है किसी बाहर के व्यक्ति से अपनी बात शेयर करने पर आर्थिक तंगी और ज्यादा बढ़ सकती है.

झूठ बोलने से बचे – चाणक्य कहते है कि हमे कभी भी किसी से झूठ नहीं बोलना चाहिए. क्यूंकि झूठ को हमेशा हार का सामना करना पड़ता है. और सत्य की हमेशा जीत होती है. वही झूठ बोलने वाले व्यक्ति पर कभी कोई विश्वास नहीं करता है. और ऐसे व्यक्ति की छवि भी हमेशा के लिए खराब हो जाती है. झूठ बोलने वाला वाला व्यक्ति कभी सफलता नहीं पा सकता है. उसको हमेशा असफलता हाथ लगती है. जिसके चलते हमे हमेशा झूठ बोलने से बचना चाहिए.

धन की बर्बादी से बचें – चाणक्य नीति में बताया गया है कि हमे कभी भी अपने धन की बर्बादी नहीं करनी चाहिए. इससे धन की देवी माँ लक्ष्मी रूठ जाती है. इसके अलावा गलत ढंग से कमाया गया धन भी कभी नहीं टिकता है. और इस तरह का धन हमारी बीमारी या अन्य खराब काम में ही चला जाता है. जिसके चलते हमे हमेशा माँ लक्ष्मी की कृपा से जिस धन की प्राप्ति हुई है उसको हमेशा तरिके से खर्च करना चाहिए.

हमें Google News पर फॉलो करे- क्लिक करे! हरियाणा से जुडी ताज़ा खबरों के लिए अभी जाए Haryana News पर.