अब दिल्ली से जयपुर जाना होगा बहुत ही आसान, बस कुछ ही मिनटों की देरी से पहुंचेंगे पिंक सिटी

नई दिल्ली | अगर आप दिल्ली से जयपुर (दिल्ली जयपुर एक्सप्रेसवे) जाने की सोच रहे हैं तो अभी आपको करीब 4 से 5 घंटे का समय लगता है. हालांकि, नवंबर के बाद से आपको सड़क मार्ग से गुरुग्राम से जयपुर जाने में सिर्फ दो घंटे लगेंगे. दरअसल, दिल्ली-मुंबई एक्सप्रेस-वे का गुरुग्राम से दौसा सेक्शन नवंबर में बनकर तैयार हो जाएगा. कई बार डेडलाइन बढ़ाने के बाद अब ऐसी जानकारी मिलने के बाद नवंबर में गुरुग्राम से दौसा रोड का विस्तार बनकर तैयार हो जाएगा. तब आपको सड़क मार्ग से दिल्ली से जयपुर जाने में बहुत कम समय लगेगा. यानी अगर आपका ऑफिस दिल्ली है तो आप जयपुर से अप-डाउन प्लान कर सकेंगे.

Elivated Bypass Highway

दिल्ली से जयपुर के लिए रहेगा ट्रैफिक

राजस्थान के दौसा से दिल्ली होते हुए गुरुग्राम जाने वालों को जल्द ही राहत मिलने वाली है. गुरुग्राम के अलीपुर से राजस्थान के दौसा तक दिल्ली-मुंबई एक्सप्रेसवे का निर्माण कार्य 90 प्रतिशत से अधिक पूरा हो चुका है. इस एक्सप्रेस-वे को नवंबर तक शुरू करने की तैयारी की जा रही है. एनएचएआई ने पहले इस मार्ग के उद्घाटन के लिए नवंबर 2021 की समय सीमा तय की थी. हालांकि, कोरोना महामारी समेत कई कारणों से इसकी समयसीमा बढ़ा दी गई थी.

अब माना जा रहा है कि नवंबर 2022 तक गुरुग्राम से जयपुर होते हुए दौसा जाना आसान हो जाएगा. इसमें समय भी कम लगेगा. दिल्ली और गुरुग्राम से जयपुर जाने वाले लोगों को अब दौसा में एक्सप्रेस-वे से उतरना होगा और वहां से उन्हें पिंक सिटी तक पहुंचने के लिए मौजूदा 40 किमी 4-लेन राजमार्ग लेना होगा.

ट्रेंडिंग-  LIC WhatsApp Services: बीमाधारकों के लिए खुशखबरी, व्हाट्सऐप पर मिलेगी पॉलिसी की डिटेल

भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण (एनएचएआई) के अधिकारियों ने कहा कि दौसा के मौजूदा राजमार्ग पर पर्याप्त यातायात प्रवाह होने की उम्मीद है. इस बीच, NHAI ने भविष्य में यातायात की मांग को पूरा करने के लिए एक्सप्रेसवे पर बांदीकुई से जयपुर तक एक नए ग्रीनफील्ड 6-लेन राजमार्ग के लिए भी बोली लगाई है. एक अधिकारी ने बताया कि यह लिंक रोड करीब 67 किमी का होगा और एक्सप्रेस-वे को जयपुर रिंग रोड से जोड़ेगा.

ट्रेंडिंग-  Indian Navy Day 2022: भारतीय नौसेना का इतिहास, जानिए क्यों और कैसे हुई नौसेना दिवस की शुरुआत

इस एक्सप्रेस-वे पर गुरुग्राम के राजीव चौक से जयपुर तक की कुल दूरी करीब 260 किलोमीटर होगी. इसकी हालत को देखते हुए माना जा रहा है कि यहां कारों की अधिकतम गति 120 किमी प्रति घंटे हो सकती है. यह रूट देश के सबसे लंबे एक्सप्रेस-वे का पहला हिस्सा होगा. सूत्रों के मुताबिक इस गुरुग्राम-दौसा खंड का उद्घाटन खुद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी कर सकते हैं.

ट्रेंडिंग-  ChatGPT के पास आपके हर सवाल का जवाब है? क्या यह वाकई गूगल से दो कदम आगे

एनएचएआई के अधिकारियों ने कहा कि दिल्ली में डीएनडी के लिए तीन स्पर्स, जेवर एयरपोर्ट और जेएनपीटी पोर्ट (मुंबई के पास) को ग्रीनफील्ड कनेक्टिविटी मिलेगी. यह एक्सप्रेसवे लगभग 1,352 किलोमीटर का है, जो जून 2024 तक पूरा हो जाएगा. इस परियोजना का उद्देश्य दिल्ली और मुंबई के बीच यात्रा के समय को बमुश्किल 12 घंटे तक लाना है. NHAI ने एक्सप्रेसवे पर इलेक्ट्रिक वाहनों को चार्ज करने की सुविधाओं के साथ-साथ अन्य सुविधाओं को विकसित करने की योजना बनाई है.

हमें Google News पर फॉलो करे- क्लिक करे! हरियाणा से जुडी ताज़ा खबरों के लिए अभी जाए Haryana News पर.