हरियाणा से गाजीपुर बॉर्डर पर हाईटेक झोपड़ी बनी आकर्षण का केंद्र

नई दिल्ली | बीते दिनों लागू किए गए तीनों कृषि बिलों के खिलाफ दिल्ली -एनसीआर के चारों बॉर्डर यानी सिंघु, टीकरी, शाहजहांपर और गाजीपुर पर आज भी हजारों तादाद में किसानों का धरना प्रदर्शन जारी है. ऐसे में किसान इस धरना प्रदर्शन कर इस आंदोलन को जिंदा रखने के साथ साथ सफल बनाने के लिए भी दिन रात एक करके प्रयास कर रहे हैं.

navbharat times

झांकी की तरह है हाईटेक झोपड़ी

इस दौरान बीते दिन यानी शनिवार को दोपहर बाद हरियाणा रोहतक जिले से चल कर आई ‘झोपड़ी’ लोगों को खूब लुभा रही है. इस समय यह हाईटेक झोपड़ी आकर्षण का केंद्र बनी हुई है. ऐसे में किसानों के साथ साथ स्थानीय लोग भी इसे देखने के लिए काफ़ी ज्यादा उत्सुक नजर आ रहे हैं.

हाईटेक झोपड़ी

यहां हम आपको विशेष रूप से जानकारी दें दे कि ऑटो के ऊपर बनाई गई लगभग 10 फीट लंबी और 3 फीट चौड़ी है यह झोपड़ी और साथ ही साथ में अंदर जाने की भी व्यवस्था इसमें खूब अच्छे तरीके से की गई है. इस झोपड़ी को ऑटो चालक चलाकर यहां पर आया है. यह पहली नजर में झांकी एक अनोखी की तरह ही लग रही है.

20 02 2021 auto 21387891

हाईटेक झोपड़ी के अंदर लगा है एलईडी बल्ब

यहां हम आपको ख़ास तौर बता दें कि उजाला करने के लिए इसमें लालटेन नुमां एलईडी बल्ब भी लगाया गया है. ऑटो से बनी इस झोपड़ी में बैटरी, साउंड सिस्टम और एक साथ ही साथ तीन मोबाइल फोन चार्ज करने का इंतजाम भी किया गया है. इस झोपड़ी का विस्तार पूर्वक वर्णन करते समय कहा गया है कि इसमें किसानों के लिए प्रिय हुक्का पीने का इंतजाम भी इस ऑटोनुमां झोपड़ी के अंदर किया गया है. यहीं वजह है कि इसमें एक हुक्का भी रखा गया है.

हाईटेक झोपड़ी के अंदर रहने के पूरे इंतजाम

रोहतक से बारी- बारी ऑटो चला कर गाजीपुर बॉर्डर पहुंचे नवीन, विकास, सोनू, जगबीर, सुंदर और अमन ने अपनी इस झोपड़ी के बारे में बताया कि यह ऑटो हमारे लिए घर की तरह है. इसमें रहकर हमें बिल्कुल घर की तरह ही आराम मिलता है. इसमें जरूरत पड़ने पर तीन लोग आराम से बैठ सकते है, इसके अन्दर पूरी तरह से हर चीज की व्यवस्था उपलब्ध करवाई गई है. इसके अंदर रहने के पूरे इंतजाम हैं.

हमें Google News पर फॉलो करे- क्लिक करे! हरियाणा में कोरोना से जुडी ताज़ा खबरों के लिए अभी जाए कोरोना केस हरियाणा ताज़ा खबर पर.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *