GST Rate Hike: GST के रेट में बदलाव, 18 जुलाई से लागू होंगे नए रेट, इन चीज़ो पर बढ़ी महंगाई देखें लिस्ट

चंडीगढ़ | आगामी 18 जुलाई से एक बार फिर महंगाई का झटका लगने वाला है. जिसमे कई सामानों समेत इलाज और होटल में खाना तक महंगा होने वाला है. दरअसल, चंडीगढ़ में दो दिन से GST काउंस‍िल की बैठक चल रही है. जिसमे कई चीज़ों पर लगने वाली जीएसटी (GST) के रेट में बदलाव किया गया है. मीडिया रिपोर्ट्स का कहना है कि कुछ चीज़ों पर पहले से मिल रही छूट को भी वापिस ले लिया गया है. जबकि अन्य सामानों पर  GST के रेट को बढ़ाने का निर्णय लिया गया है. ऐसे में आम आदमी की जेब पर एक बार फिर महंगाई की मार देखने को मिलेगी.

Nirmala Sitharaman Finance Minister

इन चीज़ों पर बड़ी GST

बता दें केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण की अध्यक्षता में चंडीगढ़ में आयोजित जीएसटी काउंसिल की दो दिवसीय बैठक का कल समापन हुआ. जिसमे जीएसटी के दामों में बदलाव किया गया है. ये नए रेट 18 जुलाई, 2022 से लागू होंगे. वही जिन सामानों को महंगा किया गया है उसमे डिब्बाबंद और लेबल-युक्त गेहूं आटा, पापड़, (फ्रोजन को छोड़कर) मछली, पनीर, दही और छाछ, मुरमुरे या मूढ़ी आदि शामिल है. 18 जुलाई से इन सभी आइटम पर 5 प्रतिशत जीएसटी लगेगी. इसके अलावा इलाज कराना और होटल में खाना तक महंगा होने जा रहा है.

इन चीज़ों पर मिली हुई थी छूट

वही जीएसटी के नए रेट बढ़ने के साथ जिन चीज़ो पर छूट मिली रही थी, उनको भी खत्म कर दिया गया है. जिसमे टेट्रा पैक, बैंक चेक, एटलस, नक़्शे, चार्ट शामिल है. अब से टेट्रा पैक और बैंक की ओर से चेक जारी करने पर 18 प्रतिशत GST लगेगी. इसके अलावा एटलस समेत नक्शे तथा चार्ट पर 12% जीएसटी देनी होगी. हालांकि खुले में बिकने वाले अनब्रांडेड और अनपेक्ड आइटम्स पर अभी छूट जारी रखी गई है.

ये चीज़े होंगी महंगी

– प्रिंटिंग-ड्राइंग इंक

– पेन्सिल शार्पनर

– LED लैंप

– चाकू

– सौर वॉटर हीटर

– कट और पोलिश डायमंड

– होटल का कमरा

– अस्पतालों का इलाज

– हवाई यात्रा

स्टेशनरी आइटम्स हुआ महंगा

बच्चों की पढ़ाई से संबंधी चीज़ो पर अब महंगाई बढ़ जाएगी. जिनमे प्रिंटिंग-ड्राइंग इंक, पेंसिल शार्पनर, एलईडी लैंप, ड्राइंग और मार्किंग करने वाले प्रोडक्ट्स, चाकू, कागज काटने वाला चाकू आदि पर जीएसटी के रेट बढ़ाने का फैसला लिया गया है. अब इन सभी वस्तुओं पर 18 प्रतिशत जीएसटी देना होगा. इसके अलावा सौर वाटर हीटर पर अब 12 प्रतिशत जीएसटी लगाया गया है. जबकि पहले यह 5 प्रतिशत था. कट या पोलिश हुए डायमंड पर 0.25 फीसदी की जगह अब 1.5 फीसदी जीएसटी देना होगा. वही एलईडी लैंप, लाइट्स पर भी भी जीएसटी दर बढ़ाकर 18% कर दी गई है. जो कि पहले 12 प्रतिशत थी.

होटल और इलाज हुआ महंगा

अब होटल के कमरे और अस्पतालों के कमरों का किराया भी महंगा होने जा रहा है. जहां पहले 1,000 रुपये से कम के किराये वाले कमरे पर जीएसटी नहीं देना होता था, परन्तु 18 जुलाई, से आपको 1 हजार रूपये प्रतिदिन से कम किराये वाले होटल के कमरे पर भी 12 प्रतिशत जीएसटी लगेगा. इसके साथ ही यदि आप अब अस्पताल में इलाज कराने जाते है तो वहां भर्ती होने वाले मरीजों के लिए 5,000 रुपये से अधिक किराये वाले कमरों (आईसीयू को छोड़कर) पर 5 प्रतिशत जीएसटी देना होगा.

श्मशान घाट, सड़क, पुल निर्माण और हवाई यात्रा महंगा

सड़क, पुल, रेलवे, मेट्रो, अपशिष्ट शोधन संयंत्र और श्मशान का काम कराने पर 18 प्रतिशत के हिसाब से जीएसटी देना होगा. जबकि पहले ये 12 प्रतिशत लगता था. रोपवे के जरिये वस्तुओं और यात्रियों के ट्रांसपोर्ट पर अब 5 फीसदी जीएसटी लगेगा जो कि पहले 18 फीसदी था. बागडोगरा से पूर्वोत्तर राज्यों तक की हवाई यात्रा पर जीएसटी छूट अब केवल इकनॉमी क्लास में सफर करने पर मिलेगी. इसके अलावा किसी क्लास को रियायत नहीं दी जाएगी. बैटरी या इलेक्ट्रिक वाहनों पर 5 फीसदी जीएसटी रहेगी.

हमें Google News पर फॉलो करे- क्लिक करे! हरियाणा से जुडी ताज़ा खबरों के लिए अभी जाए Haryana News पर.