किसानों के लिए अच्‍छी खबरी! गेहूं की न्‍यूनतम समर्थन मूल्‍य पर खरीद 1 अप्रैल से होगी शुरू, हरियाणा कर रहा है तैयारी

नई दिल्‍ली | केंद्र सरकार की ओर से हाल ही में लागू किए गए नए कृषि कानूनों के खिलाफ किसान बीते लंबे समय से विरोध- प्रदर्शन कर रहे हैं. इस दौरान सरकार न्‍यूनतम समर्थन मूल्‍य पर फसलों की लगातार खरीद कर रही है. ऐसे में अब हरियाणा की मनोहर लाल खट्टर सरकार ने एमएसपी पर गेहूं की सरकारी खरीद शुरू करने के लिए एक खास तौर पर सूचना जारी कर दी है. कहा जा रहा है कि अब हरियाणा राज्‍य में अप्रैल माह की एक तारीख 2021 से गेहूं की सरकारी खरीदारी शुरू करने के लिए ख़ास तैयारियां शुरु कर दी गई है.

wheat green 500x300 1

बीते वर्ष हरियाणा में 10 अप्रैल से शुरू हुईं थी ख़रीद

5252idea99wheat 863392 960 720

यहां पर हम आपको मुख्य रूप से जानकारी दें दे कि बीते वर्ष हरियाणा में 10 अप्रैल से गेहूं की सरकारी खरीद शुरू हुई थी. इससे अगेती फसल के भंडारण में किसानों को काफी परेशानी का सामना करना पड़ा था. यही मुख्य वजह है कि इस बार 400 छोटे-बड़े क्रय केंद्र हरियाणा में बनाए जाएंगे.

1572173350 1773 1610435223

लगभग 400 छोटे-बड़े क्रय केंद्र बनेंगी

किसान

बता दें कि हरियाणा के उप मुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला ने ख़ास बातचीत के दौरान बताया है कि एमएसपी पर गेहूं की खरीद के लिए लगभग 400 छोटे -बड़े केंद्र बनाए जा सकते हैं. इसके अतिरिक्त किसानों की आवश्यकता के अनुसार मंडियां भी बनाई जा सकती है. इस बीच उन्‍होंने कहा कि हरियाणा केवल एक ही ऐसा राज्य है, जहां पर गेहूं, सरसों, दाल, चना, सूरजमुखी, जौ के साथ साथ कुल 6 फसलें एमएसपी पर खरीदी जाती हैं.

किसान

जानें, कौन से मामलो में हरियाणा बना पहला राज्य

पहली दफा प्रदेश में जौ की एमएसपी पर खरीद की जा रही है. इसके लिए कुल सात मंडियां तय की गई हैं. जहां पर उन्होंने यह दावा भी किया है कि हरियाणा ऐसा पहला राज्‍य होगा, जहां केवल 48 घंटे के भीतर फसल की कीमत किसान या आढ़ती के बैंक खाते में पहुंच जाएगी. उन्होंने उम्मीद करते हुए कहा है कि पड़ोसी राज्य भी किसानों के हितों का ध्‍यान रख कर इस नीति को जल्द ही अपनाएंगे.

हमें Google News पर फॉलो करे- क्लिक करे! हरियाणा में कोरोना से जुडी ताज़ा खबरों के लिए अभी जाए कोरोना केस हरियाणा ताज़ा खबर पर.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *