हरियाणा की मनोहर और दुष्यंत’ पर तंज: 600 दिन राज करने के बाद घर में क्यों बंद हो गई ‘सरकार’!

चण्डीगढ़ | हाल ही में हरियाणा में मनोहर लाल सरकार के 600 दिन पूरे हो गए हैं. इस मौके पर सरकार ने प्रचार की सहायता से अपनी उपलब्धियां लोगों तक पहुंचाने में कोई कसर बाकी नहीं रखी है. ऐसे में अब कांग्रेस पार्टी के महासचिव रणदीप सुरजेवाला ने हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल और दुष्यंत चौटाला पर तंज कसते हुए कहा है 600 दिन राज करने के बाद भी सरकार को घर में बंद होना पड़ रहा है. यह नेता जहां भी जाते हैं, जनता उन्हें उसी समय पर वहा से भगा देती है. दरअसल, रणदीप ने यह बात किसान आंदोलन के संदर्भ में कही है.

हरियाणा

हरियाणा में आंदोलन कर रहे किसान, मुख्यमंत्री, उपमुख्यमंत्री और दूसरे मंत्रियों व नेताओं का सार्वजनिक विरोध कर रहे हैं. इसके चलते सरकार को अनेक कार्यक्रम रद्द करने पड़े हैं. ऐसे में रणदीप का इशारा साफ था कि आज दुष्यंत चौटाला, मनोहर सरकार में मलाई चाट रहे हैं, किंतु वे ध्यान रखें कि चुनाव में उन्हें भी लोगों को जवाब देना है. ‘अबकी बार, भाजपा यमुना पार’ के बयान पर लोग पूछेंगे. हरियाणा में किसान आंदोलन के बाद से प्रदेश के राजनीतिक समीकरण बदलते जा रहे हैं. मुख्यमंत्री मनोहर लाल के साथ किसान संगठन कई बार टकरा चुके हैं. बता दें कि करनाल और हिसार में तो किसानों को पुलिस कार्रवाई का सामना करना पड़ा है. राजनीतिक जानकारों का कहना है कि मुख्यमंत्री अभी किसानों की ज्यादा परवाह नहीं कर रहे हैं. दूसरा, मनोहर की छवि एक जननेता वाली नहीं है. यहां पर जाति की बात सामने आ जाती है. वह जिस जाति से संबंधित हैं, उसका राजनीति से लगाव या सहभागिता ज्यादा नहीं है. वर्ष 2014 में जब प्रदेश के मुख्यमंत्री के नाम की घोषणा होनी थी तो पहले से यह कोई नहीं जानता था कि मनोहर लाल प्रदेश के सीएम होंगे.

ऐसे में सरल शब्दों में कहा जा सकता है कि रणदीप का यहां मतलब है कि सरकार के मंत्री या विधायक जहां भी जाते हैं, किसान उन्हें काले झंडे दिखा रहे हैं.

हमें Google News पर फॉलो करे- क्लिक करे! हरियाणा में कोरोना से जुडी ताज़ा खबरों के लिए अभी जाए कोरोना केस हरियाणा ताज़ा खबर पर.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *