हरियाणा में BPL राशन कार्ड बनानेे पर लगी रोक, जानें क्या है इसके पीछे का कारण

चंडीगढ़ | हरियाणा में गरीबी रेखा से नीचे यानी BPL जीवनयापन कर रहे परिवारों के राशन कार्ड बनाने पर अब हाल ही में प्रदेश सरकार ने फिलहाल के राशन कार्ड रोक लगा दी है. ऐसे में कहा जा रहा है कि परिवार पहचान पत्र (पीपीपी) बनाने का काम पूरा होने के पश्चात ही नए BPL कार्ड बनाए जा सकते हैं. इससे पहले इस काम से जुड़े सभी काम बंद कर दिए गए हैं. बता दें कि पीपीपी की रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया होने के बाद ही यह निश्चित किया जा सकता है कि प्रदेश में कितने परिवार BPL की श्रेणी में शामिल रहेंगे और कितने इस श्रेणी से कट सकते हैं.

BPL

BPLियमों में हुआ बदलाव

rationcard 1597825182

यहां पर हम आपको मुख्य रूप से जानकारी दें दे कि हरियाणा में परिवार पहचान पत्र बनाने का काम वर्तमान समय में काफ़ी तेजी से चल रहा है. ऐसे में पीपीपी के डाटा के मुताबिक़ सरकार खुद ही ऐसे परिवारों का चयन कर उनके BPL कार्ड तैयार कर सकती है. कहा जा रहा है कि अभी BPL परिवारों के लिए तय गए नियमों में बदलाव किया जा चुका है.

ration card 55 1510487478 271219 khaskhabar

जानें, कौन होगा BPL की श्रेणी में

राशन कार्ड

बता दें कि पहले एक लाख 20 हजार रुपये तक सालाना आय वाले परिवारों को BPL की श्रेणी में शामिल किया जाता था किन्तु, अब इस दायरे को बढ़ाते हुए इसे लगभग एक लाख 80 हजार रुपये कर दिया गया है. इस दौरान इतनी सालाना आय वाले सभी परिवारों को BPL की श्रेणी में रखने की बात कही जा रही है.

ration card 55 1510487478 271219 khaskhabar

 सरल पोर्टल में BPL आवेदन पंजीकरण को किया बंद

बता दें कि BPL परिवारों को लगभग एक हजार से 1200 रुपये तक की मदद सरकार की ओर से प्रति माह राशन के रूप में दी जा रही है. इस बीच उप मुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला ने संवादाताओं से ख़ास बातचीत करते समय कहा है कि BPL परिवारों की पहचान की क्रिया विधि को परिवार पहचान पत्र से जोड़ने का निर्णय लिया गया है, इसीलिए अभी थोड़े समय के लिए सरल पोर्टल पर वर्तमान में BPL आवेदन पंजीकरण को बंद किया गया है.

हमें Google News पर फॉलो करे- क्लिक करे! हरियाणा में कोरोना से जुडी ताज़ा खबरों के लिए अभी जाए कोरोना केस हरियाणा ताज़ा खबर पर.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *