अनिल विज ने दिया आदेश, हरियाणा के प्रत्येक जिलें में दी जाएगी अब ये सुविधा

चंडीगढ़ | हरियाणा के स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज ने कहा है कि राज्य के अस्पतालों में स्वास्थ्य सुविधाओं को विश्व स्वास्थ्य संगठन के मानकों के मुताबिक़ तैयार किया जाएगा. इसी के साथ में हम आपको मुख्य रूप से जानकारी दें दे कि डब्ल्यूएचओ के मानकों के मुताबिक़ ही प्रत्येक जिले में जनसख्या के आधार पर जितने बेड्स होने चाहिए उतने बेड्स, डॉक्टर व अन्य स्टाफ का प्रबंध जल्द से जल्द किया जा सकता है. विज ने इस मामले में आज चिकित्सा शिक्षा एवं अनुसंधान तथा स्वास्थ्य विभाग के वरिष्ठ अधिकारियों के साथ बैठक कर, विचार विमर्श किया है.

अनिल विजअनिल विज

दरअसल, इस दौरान उन्होंने कहा है कि प्रदेश के 30 या उससे ज्यादा बिस्तरों वाले अस्पतालों तथा मेडिकल कॉलेजों में पीएसए ऑक्सीजन प्लांट लगाए जाएंगे, ऐसा केवल इसलिए, क्योंकि आवश्यकता पडऩे पर ऑक्सीजन की कमी नहीं रहनी चाहिए. इन अस्पतालों में राष्ट्रीय मानकों के अनुसार सभी बेड को ऑक्सीजन, वेंटीलेटर एवं अन्य आवश्यक सुविधाओं से युक्त बनाया जाएगा. इसके साथ की अस्पतालों में क्षमता के आधार पर आईसीयू बेड की संख्या निर्धारित की जाएगी. इसके अतिरिक्त सभी चिकित्सकों के लिए रिफ्रैशर कोर्स, पैरामेडिकल स्टॉफ तथा तकनीकी स्टॉफ को प्रशिक्षित किया जाएगा.

विज ने कहा है कि राज्य में केन्द्र सरकार की तरफ सेशुरू की गई ई- संजीवनी उपचार की सुविधा 24 घंटे उपलब्ध करवाई जाएगी. इसके अलावा 100 से ज्यादा बिस्तरों वाले अस्पतालों में टेस्टिंग लैब को अपग्रेड किया जाएगा, जो एनएबीएल से प्रमाणित होंगी. उन्होनें अस्पतालों के बल्ड बैंकों में बल्ड सेपरेटर मशीने लगाने के निर्देश दिए हैं ताकि रक्त के विभिन्न अंशों को जरूरत के अनुसार मरीजों को उपलब्ध करवाया जा सके.

इस बैठक में चिकित्सा शिक्षा एवं अनुसंधान विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव श्री आलोक निगम, राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन के मिशन निदेशक प्रभजोत सिंह, स्वास्थ्य विभाग अतिरिक्त मुख्य सचिव राजीव अरोड़ा, एचएमएससी के प्रबन्ध निदेशक डॉ. साकेत कुमार, सीएफडीए मोहम्मद शाईन डीएमईआर डॉ. शालीन के साथ कई अन्य अधिकारी मौजूद थे.

हमें Google News पर फॉलो करे- क्लिक करे! हरियाणा में कोरोना से जुडी ताज़ा खबरों के लिए अभी जाए कोरोना केस हरियाणा ताज़ा खबर पर.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *