पेट्रोल-डीजल-गैस के बाद अब बिजली का झटका, जानें पूरी ख़बर

हरियाणा | डीएचबीवीएन व यूएचबीवीएन ने बीते दिनों लॉकडाउन में प्रदेशवासियों पर ज्यादा बोझ डाल दिया. यही कारण है कि बिजली निगमों ने ग्राहकों की सब्सिडी में मिलने वाली 100 यूनिट घटा दी है. ऐसे में नए टैरिफ प्लान के मुताबिक़ उपभोक्ताओं के पास अब बिल पहुंचने के बाद से अब खलबली मची हुई है.

बिजली निगमों में शिकायत लेकर पहुंचने लगे लोग

दरअसल, उपभोक्ताओं को हर महीने कुल 200 यूनिट यानी 60 दिन में कुल 400 यूनिट तक सब्सिडी दी जाती थी. जिसे अब घटाकर प्रति माह के हिसाब से केवल 150 यूनिट और 60 दिन के हिसाब से केवल 300 यूनिट तक कर दिया गया है. यह कहा जा सकता है कि अब लगभग 5 माह के बाद नवंबर के यह बिल जब उपभोक्ताओं के पास आए है तो लोग निगमों में एक बड़ी तादाद में शिकायत लेकर पहुंचने लगे है. डीएचबीवीएन ने यह नया टैरिफ प्लान 1 जून 2020 से लागू कर दिया था. ऐसे में रिवाइज रेट पर एरियर लिया जा सकता है.

जानें, सेल सर्कुलर नंबर डी 25/2018 पुरानी सब्सिडी में क्या थे टैरिफ मूल्य

  • यूनिट स्लैब प्रति यूनिट वाइज   रेट रुपये में
  • 0 से 100                            2.00
  • 0-400                               2.50
  • 401-500                          5.25
  • 501-1000                        6.30
  • 1001-1600                      7.10

दरअसल, यहां हम आपको मुख्य रूप से जानकारी दें दे कि पुराने टैरिफ में सब्सिडी तो 400 यूनिट तक ही प्राप्त हो सकती थी किन्तु, इसमें एक अहम शर्त रखी गई थी कि यह जिस भी उपभोक्ता की दो माह में 1000 यूनिट तक आएंगी उन्हें ही 400 यूनिट तक सब्सिडी का फ़ायदा हासिल हो सकता था.

सेल सर्कुलर नंबर डी 14/ 2020 नए टैरिफ के मुतबिक़ रेट, 60 दिन के आधार पर

यूनिट स्लैब प्रति यूनिट     वाइजट रुपये में

  1. 0-100             2.00
  2. 101 -200        2.50
  3. 0-300             2.50
  4. 301-500        5.25
  5. 501-1000      6.30
  6. 1001-1600     7.10

1600 से अधिक पर कोई लाभ नहीं हासिल हो सकता है.

यहां पर हम आपको विशेष रूप से बता दें कि नए टैरिफ प्लान में सब्सिडी केवल 300 यूनिट तक ही हासिल हो सकती है. वहीं, पुराने मे 400 यूनिट तक मिलती थी.

जानें, 530 यूनिट पर कितना बढ़ जाएगा बिल

यहां हम आपको ख़ास तौर पर बता दें कि इन दोनों उदाहरणों के मुताबिक़ नए बिल में कुल 312 रुपये प्रति उपभोक्ता को हर बिल के साथ ज्यादा पैसे का भुगतान करना होगा. ऐसे में घरेलू बिजली उपोक्ताओं की जेब ढीली हो सकती है.

हमें Google News पर फॉलो करे- क्लिक करे! हरियाणा से जुडी ताज़ा खबरों के लिए अभी जाए Haryana News पर.