Shani Gochar 2022: कल से शनि की साढ़े साती-ढैय्या शुरू, इन लोगो को सहने पड़ेंगे कष्ट

ज्योतिष डेस्क, Shani Gochar 2022 | ज्योतिष शास्त्र में शनिदेव को न्याय का देवता बताया गया है. शनिदेव व्यक्ति को उसके कर्मों के आधार पर फल देते है. वही वैदिक ज्योतिष के मुताबिक कल यानि 12 जुलाई को शनिदेव अपनी स्वराशि मकर में अगले 6 महीने के लिए गोचर (Shani Gochar Makar Rashi 2022) करने जा रहे है. ऐसे में 5 राशियों पर इसका असर देखने को मिल सकता है. वैसे तो शनि के इस गोचर का प्रभाव सभी 12 राशियों पर पड़ेगा, परंतु केवल 5 राशि वालों के वालों की जिंदगी में ये गोचर साढ़े साती और ढैय्या का मुश्किल समय लाएगा. यानि इन 5 राशि वालों का समय काफी कष्टदायी हो सकता है. अगले 6 महीने के लिए शनि का मकर राशि में प्रवेश रहने वाला है. यानि 2023 तक इन 5 राशि वालों का समय खराब रहने वाला है.

ट्रेंडिंग-  Rashifal 2023: ये हैं नए साल की सबसे भाग्यशाली राशियां, करियर में मिलेगी सफलता; होगा भरपूर मुनाफा

shani

इन 5 राशि वालों पर शनि की साढ़े साती-ढैय्या शुरू

कल यानि 12 जुलाई से शनिदेव मकर राशि में प्रवेश करने से 5 राशियों पर साढ़े साती और ढैय्या शुरू हो जाएगी, जिनमे धनु, कुंभ, मकर, मिथुन और तुला  राशि शामिल है. यानि कुल 12 राशियों में से इन 5 राशि वालो पर सबसे ज्यादा कष्ट होने वाला है. वही दूसरी ओर कुछ राशि वालों को शनि की महादशा से राहत भी मिलेगी. जिनमे कर्क और वृश्चिक का नाम है. इन दोनों राशियों पर चल रही शनि की साढ़े साती-ढैय्या अब खत्म हो जाएगी.

बता दें शनि की साढ़े साती और ढैय्या जातक के लिए बेहद कष्टकारी होती है.शनि की बुरी नजर व्‍यक्ति को आर्थिक, शारीरिक और मानसिक तीनों रूप से प्रभावित करती है. इसके साथ ही व्यक्ति की सफलता के रास्ते भी बंद हो जाते है. व्यक्ति को धन की भी हानि होने लगती है. इसके अलावा व्यक्ति की सेहत पर भी इसका प्रभाव देखने को मिलता है.

ट्रेंडिंग-  Rashifal 2023: ये हैं नए साल की सबसे भाग्यशाली राशियां, करियर में मिलेगी सफलता; होगा भरपूर मुनाफा

साढ़े साती-ढैय्या से राहत के उपाय

शनि की साढ़े साती – ढैय्या शुरू हो जाने का मतलब आपके ऊपर शनि की बुरी दशा शुरू हो जाना है. वही जिन राशि के जातको पर शनि की साढ़े साती – ढैय्या  शुरू हो जाये वो जातक कुछ उपाय करके राहत पा सकते है. इससे राहत पाने का सबसे अच्छा उपाय है कि ऐसे लोगो को अच्छा काम करना चाहिए.

ट्रेंडिंग-  Rashifal 2023: ये हैं नए साल की सबसे भाग्यशाली राशियां, करियर में मिलेगी सफलता; होगा भरपूर मुनाफा

इसके साथ ही किसी से झूठ नहीं बोलना, दिव्‍यांगों-बुजुर्गों-मजदूरों का कभी अपमान नहीं करना चाहिए. इसके अलावा आप हर शनिवार को पीपल के पेड़ के नीचे सरसों के तेल का दीपक जलाकर और तेल, काले तिल, उड़द, काले कपड़े आदि का दान करके भी इसके प्रकोप से बच सकते है.

हमें Google News पर फॉलो करे- क्लिक करे! हरियाणा से जुडी ताज़ा खबरों के लिए अभी जाए Haryana News पर.