Chander Grahan 2022: 15 दिनों में दूसरा ग्रहण, ये होगा साल का आखिरी चंद्र ग्रहण, देखे क्या होगा इसका असर

ज्योतिष।Chander Grahan 2022|साल का दूसरा और आखिरी चंद्र ग्रहण 8 नवंबर को देव दिवाली के दिन लगेगा. हिंदू धर्म और ज्योतिष में ग्रहण को शुभ नहीं माना गया है. इस साल यह संयोग ही है कि महज 15 दिनों में 2 ग्रहण लग चुके हैं. दिवाली के एक दिन बाद 25 अक्टूबर को सूर्य ग्रहण और अब 8 नवंबर को चंद्र ग्रहण लगेगा.

Jyotish

चंद्र ग्रहण कब होता है

चंद्र ग्रहण तब होता है जब पूर्णिमा की रात को सूर्य, चंद्रमा और पृथ्वी एक ही रेखा में होते हैं. पृथ्वी के केंद्र में होने के कारण इसकी छाया चंद्रमा पर पड़ती है, जो इसे आकर्षक लाल रंग देती है. कभी-कभी यह चंद्रमा को भी ढक लेता है. साल की शुरुआत में ही 15 मई को चंद्र ग्रहण लग गया है. अब 8 नवंबर को लगने वाला चंद्रग्रहण दूसरा और आखिरी होगा. संयोग से यह दिन देव दिवाली का भी है. इस दिन मंदिरों को सजाया जाता है.

क्या भारत में दिखाई देगा चंद्र ग्रहण

8 नवंबर को लगने वाला चंद्रग्रहण भारत के अधिकांश हिस्सों में दिखाई नहीं देगा. ऐसे में ग्रहण का सूतक काल प्रभावी नहीं होगा. चंद्र ग्रहण 8 नवंबर को शाम 5.32 बजे से शाम 6.18 बजे तक रहेगा. यह ग्रहण केवल भारत के पूर्वी हिस्से में ही दिखाई देगा. इनमें कोलकाता, सिलीगुड़ी, पटना, रांची और गुवाहाटी शामिल हैं. इसके अलावा चंद्र ग्रहण काठमांडू, टोक्यो, बीजिंग, सिडनी, जकार्ता, मेलबर्न, सैन फ्रांसिस्को, वाशिंगटन डीसी, न्यूयॉर्क सिटी, शिकागो और मैक्सिको सिटी में दिखाई देगा.

ट्रेंडिंग-  दिसंबर महीने में इन सात राशि वालों की चमकेगी किस्मत, बन रहें सफलता के पूरे योग

ज्योतिष शास्त्र में चंद्रमा को मन और माता का स्वामी माना गया है. चंद्र ग्रहण का सभी राशियों की मानसिक स्थिति और जीवन पर शुभ और अशुभ प्रभाव पड़ेगा. ग्रहण के दौरान कुछ लोगों को तनाव, अनिर्णय, मानसिक कष्ट का सामना करना पड़ सकता है. इसका असर देश और दुनिया पर देखा जा सकता है. इसमें मौसम के प्रभाव जैसी घटनाएं शामिल हैं. ग्रहण के दुष्प्रभाव से बचने के लिए ग्रहण के बाद स्नान करना चाहिए.

हमें Google News पर फॉलो करे- क्लिक करे! हरियाणा से जुडी ताज़ा खबरों के लिए अभी जाए Haryana News पर.