हरियाणा सरकार ने दिव्यांग छात्रवृत्ति योजना में किया यह बड़ा फेरबदल

जींद | हरियाणा सरकार ने हाल ही में समाज कल्याण विभाग की ओर से किसी भी जाति के दिव्यांग छात्र को दी जा रही छात्रवृत्ति योजना को शिक्षा विभाग के पास ट्रांसफर कर दिया है. यहां पर हम आपको मुख्य रूप से जानकारी दें दे कि अब तक सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग इस मामले में सुविधा देता आ रहा था किंतु, हाल ही में अब सरकार ने इस विभाग से इस योजना को वापस ले लिया है. बता दें कि इस छात्रवृत्ति योजना का फ़ायदा देने की पूरी पूरी जिम्मेदारी अब सरकार ने शिक्षा विभाग के हवाले कर दी है.

जानें, कितने पैसे मिलते हैं छात्रवृत्ति योजना में

ऐसे में सरकार की ओर से जारी किए गए पत्र में स्पष्ट रूप से कहा गया है कि राज्य दिव्यांग छात्रवृत्ति योजना सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग हरियाणा से शिक्षा विभाग को स्थानांतरित कर दी गईं है. साथ ही साथ में हम यहां पर यह भी बता दें कि दिव्यांगों को मिलने वाली छात्रवृत्ति कक्षाओं के मुताबिक़ वितरित की जाती है.

छात्रवृत्ति योजना

पहली से कक्षा 4 तक कुल 400 रुपये छात्रवृत्ति के रूप में सरकार की तरफ से दिए जाते हैं. वहीं बात करें, कक्षा 5 वीं से 8 वीं तक के दिव्यांग विद्यार्थियों को लगभग 500 रुपये दिए जाते हैं. ऐसे में कक्षा 9 वीं से 12 वीं तक के दिव्यांग बच्चों को कुल 600 रुपये के हिसाब से सरकार की तरफ छात्रवृत्ति के रूप में दिए जा रहे हैं किन्तु, इस दौरान अहम बात यह है कि सरकार ने इस योजना को शिक्षा विभाग को स्थानांतरित कर दिया है.

हमें Google News पर फॉलो करे- क्लिक करे! हरियाणा में कोरोना से जुडी ताज़ा खबरों के लिए अभी जाए कोरोना केस हरियाणा ताज़ा खबर पर.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *