डिप्टी CM का ब्यान: मैं ये नहीं कहता कि तीनों कृषि कानून पूरी तरह ठीक हैं किन्तु, बिना चर्चा के हल कैसे निकलेगा?

पंचकुला | हरियाणा में भाजपा के साथ दुष्यंत चौटाला की पार्टी JJP ( जननायक जनता पार्टी) फिलहाल सत्ता में है. ऐसे में कहा जा रहा है कि किसानों की राजनीति करने वाली पार्टी JJP में भी कृषि कानूनों को लेकर दुविधा में हैं. ऐसे में किसान अब लगातार डिप्टी सीएम दुष्यंत चौटाला की सभाओं में विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं. कृषि कानून और कुछ अलग मुद्दों पर JJP नेता और राज्य के उप मुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला से बातचीत की है, इस बातचीत के मुख्य अंश हम आपके साथ सांझा कर रहे हैं.

447346 446897 446616 chautala

आप तीन कृषि बिलों को किस प्रकार से देखते हैं, क्या यह तीनों कृषि कानून किसानों के हक में हैं?

कृषि

तीनों बिल इनडायरेक्टली कृषि से जुड़े हुए है. ऐसे में कृषि को यह इफेक्ट करने वाले नहीं है. ऐसे ने तीनों बिलों पर केवल भ्रम फैलाया जा रहा है कि MSP खत्म हो जाएगा, किन्तु, ऐसा नहीं होगा. यहां हरियाणा में मेरी फसल, मेरा ब्यौरा पोर्टल की पहल की गई है. इसमें हम छह फसलों को MSP पर ख़रीदेंगे, जिससे किसानों को कुल 48 घंटे में उनकी फसल का भुगतान भी साथ ही साथ में किया जा रहा है.

dushyant chautala 1607622213

दुष्यंत चौटाला की खुद की नजर में तीनों कृषि बिल क्या बिल्कुल ठीक हैं?

peasant11 1

इस सवाल के जवाब में प्रतिक्रिया देते हुए उन्होंने संवादाताओं के समक्ष कहा है कि “मैं यह नहीं कहता कि बिल पुरी तरह से ठीक है या फिर नहीं. ऐसे में यह भी कहा जा सकता है कि GST जब आया तो वह भी ठीक नहीं था किन्तु, उसके पश्चात उसमें भी कुछ जरूरी बदलाव किए गए हैं. अब मैं स्वयं कहता हूं कि इसमें बदलाव की जरूरत है. साथ ही साथ में इस मामले में प्रधानमंत्री मोदी ने भी कहा है कि बदलाव की जरूरत है तो हम बदलाव के लिए तैयार हैं.

हमें Google News पर फॉलो करे- क्लिक करे! हरियाणा में कोरोना से जुडी ताज़ा खबरों के लिए अभी जाए कोरोना केस हरियाणा ताज़ा खबर पर.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *