Income Tax Saving: माता-पिता की सेवा में खर्च पर मिलता है Tax छूट का फायदा, जानें क्या है नियम

टेक डेस्क, Income Tax Saving | हमारे देश में माता-पिता की सेवा करना सबसे बड़ा धर्म माना जाता है. इनकी सेवा करने से संसार में सभी सुखों की प्राप्ति होती है. इसके अलावा हर बच्चे का फर्ज होता है अपने माता-पिता की सेवा करना. वही माता-पिता की सेवा करने से आपको टैक्स छूट में भी फायदा मिल सकता है. शायद ये आप लोगो में से बहुत कम लोग जानते होंगे. इनकम टैक्स के एक नियम के अनुसार माँ-बाप की सेवा में हुए खर्चे पर इनकम टैक्स छूट देता है.

ITR

बता दें वित्त वर्ष का यह क्लोजिंग टाइम चल रहा है इस समय लोग कई तरह की योजनाओं में इन्वेस्टमेंट कर रहे है। ताकि उन्हें इनकम टैक्स में छूट मिल सके. इनकम टैक्स बचाने के लिए आप सार्वजनिक भविष्य निधि (Public Provident Fund- PPF), बीमा पॉलिसी (Insurance), होम लोन (Home Loan) और किराए जैसे कई तरीकों का सहारा ले सकते है. इसके अलावा और भी अन्य तरीकों के जरिये आप इनकम टैक्स को बचा सकते है. इनमें से आप माता-पिता के नाम से कुछ बीमा योजना या बचत योजनाओं में निवेश करके इनकम टैक्स छूट का लाभ ले सकते हैं. परंतु इन सभी योजनाओं का लाभ केवल वही ले सकते है. जिनके माता-पिता टैक्स के दायरे से बाहर हो या उनकी आमदनी टैक्सेबल इनकम (Taxable Income) से कम है.

माता-पिता के लिए हेल्थ बीमा

आप अपने बुजुर्ग माता-पिता के लिए हेल्थ बीमा ले सकते है. क्यूंकि  इनकम टैक्स के सेक्शन 80d के तहत माता पिता की उम्र 60 साल से कम होने पर स्वास्थ्य बीमा पर 25 हजार रुपये की छूट दी जाती है. और यदि पेरेंट्स की उम्र 60 से ऊपर है तो टैक्स छूट की रकम 50 हजार रह जाती है. यानि सेक्शन 80d के तहत आप खुद ही टैक्स छूट का फायदा उठा सकते है.

ट्रेंडिंग-  SBI ग्राहकों को मिला ये शानदार तोहफा, बैंक ने शुरू की उत्सव जमा स्कीम

पेरेंट्स को दें गिफ्ट

आप अपने माता-पिता को टैक्स के दायरे में आने वाली कमाई को गिफ्ट के रूप में देकर भी टैक्स में फायदा ले सकते है. इसके लिए आपको पेरेंट्स के नाम पर सबसे पहले निवेश (Investment) करना होगा. सीनियर सिटीजन के लिए टैक्स छूट 3 लाख रुपए तक है, जबकि 80 साल या उससे अधिक के बुजुर्गों के लिए यह छूट 5 लाख रूपये रखी की गई है. बैंक या डाकघर में जमा राशि पर हासिल किए 50,000 रुपये तक का ब्याज वरिष्ठ नागरिकों (Senior Citizen) के लिए टैक्स फ्री होता है.

ट्रेंडिंग-  SBI ग्राहकों को मिला ये शानदार तोहफा, बैंक ने शुरू की उत्सव जमा स्कीम

माता-पिता को किराया देकर

यदि आप अपने माता-पिता के घर में रह रहे है तो आप अपने माता-पिता को किराया देकर अपना टैक्स बचा सकते है. ये फायदा आप सेक्शन 10(13ए) के तहत ले सकते हैं. यहां इस बात का विशेष ध्यान रखना है कि प्रॉपर्टी माता-पिता के नाम पर होनी जरूरी है. इस तरह आप किराये का सहारा लेकर भी टैक्स छूट में फायदा उठा सकते है.

हमें Google News पर फॉलो करे- क्लिक करे! हरियाणा से जुडी ताज़ा खबरों के लिए अभी जाए Haryana News पर.