CBSE 12th Board Exam 2021: बायोलॉजी के प्रश्नों की संख्या हुई बढ़ोतरी, बिजनेस स्टडीज में तय हुई शब्द सीमा

नई दिल्ली, CBSE | केन्द्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) वर्तमान स्थिति की गंभीरता को समझते हुए सत्र (2020 व 21) के लिए हाल ही में पेपर के पैटर्न में कुछ बड़े बदलाव नहीं किए हैं किन्तु, छोटे- छोटे बहुत से बदलाव जरूर किए हैं. ऐसे में अगर इन सभी बदलावो पर प्रकाश डाला जाए तो फ़िर सबसे पहले बात की जायेगी शब्दों की सीमा क्योंकि अब शब्दों की सीमा तय करने से लेकर केस- स्टडी पर आधारित सवालों को जोड़ दिया गया है. ऐसे में यदि आप कक्षा 12 वीं CBSE के छात्र हैं और बायोलॉजी, इकोनॉमिक्स व बिजनेस स्टडी की तैयारी में जुटे हुए हैं, तो फिर यहां पर विषयों में किए गए कुछ अतिआवश्यक संशोधनों की जानकारी जरूर पढ़ लें, यह ख़बर आपके लिए बेहद ही ज्यादा फायदेमंद साबित हो सकती है.

CBSE

बायोलॉजी ने बढ़ा दी गई कुल प्रश्नों की संख्या

एक ओर अगर बायोलॉजी के विषयों में हुए बदलावों पर प्रकाश डाला जाए तो कहा जा सकता है कि पिछले सत्र यानी वर्ष 2019 व 20 में कुल 27 सवाल पूछे गए थे, वहीं दूसरी तरफ अर्थात इस बार वर्ष 2020 व 21 में कुल प्रश्नों की संख्या को बढ़ाकर 33 कर दिया गया है. यहां हम आपको विशेष रूप से जानकारी दें दे कि सेक्शन- ए यानी एक अंक के सवालों में केस -स्टडी पर आधारित कुल दो सवालों को भी जोड़ दिया गया है.

इकोनॉमिक्स में फ़िलहाल कोई ज्यादा बड़ा बदलाव नहीं

अब इकोनॉमिक्स विषय की बात करें तो यहां सीबीएसई की ओर से इस विषय में भी संशोधन किया है, कहा जा रहा है कि इस साल यानी वर्ष 2020 व 21 के प्रश्नपत्र में कुल दो केस- स्टडी पर आधारित सवालों को जोड़ दिया गया है. अगर सरल शब्दों में कहें तो अब CBSE विभाग की ओर से मैक्राे -इकोनॉमिक्स में एक और इंडियन इकोनॉमिक्स डेवलपमेंट वाले भाग में एक प्रश्न केस -स्टडी पर आधारित पूछा जा सकता है. इसके अतिरिक्त पेपर के पैटर्न में फ़िलहाल कोई ज्यादा बड़ा बदलाव नहीं किया गया है.

बिजनेस स्टडीज में चार और छह अंकों वाले प्रश्नों की बढ़ाई गई संख्या 

अब अंत में अगर बात करें बिजनेस स्टडीज तो इस बार उत्तर देने के लिए शब्द सीमा तय कर दी गई है. अब तीन, चार और छह अंकों के सवाल के लिए केवल 50 से 70, 150 और 200 शब्दों में ही उत्तर देना अनिवार्य कर दिया गया है. साथ ही साथ सीबीएसई (CBSE) की ओर से प्रश्न पत्र में बदलाव करते हुए कहा गया है कि इस बार पांच अंक वाले प्रश्न नहीं पूछे जाएंगे. दरअसल, इस बार भी कुल प्रश्नों की संख्या 34 ही रहेगी. ऐसा इसलिए क्योंकि केवल चार और छह अंकों वाले प्रश्नों की संख्या बढ़ा दी गई है.

हमें Google News पर फॉलो करे- क्लिक करे! हरियाणा में कोरोना से जुडी ताज़ा खबरों के लिए अभी जाए कोरोना केस हरियाणा ताज़ा खबर पर.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *