Big Breaking News : हरियाणा में झाड़ियों के पास मिली गर्भवती महिलाओं और बच्चों को दी जाने वाली सरकारी दवा की खेप, जांच के लिए 17 टीमों का गठन

चरखी दादरी | गर्भवती महिलाओं और बच्चों को दी जाने वाली सरकारी दवाइयों की खेप रोड किनारे झाड़ियों में मिलने के मामले में स्वास्थ्य विभाग (Health Department) ने तीन लोगों की कमेटी का गठन किया है. वहीं, अब यह भी कहा जा रहा है कि जिला में जांच के लिए कुल 17 टीमों का गठन किया गया है. ऐसे में कहा जा रहा है कि अब जांच टीमें दवाइयों के स्टॉक के साथ साथ अन्य बिंदुओं पर अपनी रिपोर्ट जल्द ही पेश करेगी. जिस आधार पर कमेटी की ओर से दो दिन के अंदर रिकॉर्ड खंगालते हुए कोइ बड़ा खुलासा कर सकती हैं.

झाड़ियों

झाड़ियों में मिली दवाइयों का ममला सवाल बन कर उभरा

यहां पर हम आपको मुख्य रूप से जानकारी दें दे कि एक दिन पहले ही घिकाड़ा रोड पर झाडिय़ों में सरकारी दवाइयों की खेप पड़ी मिली थी. जिसके बाद से ही स्वास्थ्य विभाग में भी हडक़ंप मच गया था कि इतनी सारी दवाइयां आखिर कौन से अस्पताल या फिर संस्था द्वारा फेंकी गई हैं. फिलहाल यह मामला बिना बिना किसी जवाब के एक बड़ा सवाल बन कर उभर रहा है.

झाड़ियों

दोनों बैचों की लगभग 41 हजार बोतलें हुई थी जारी , बाद में झाड़ियों से हुई बरामद

हालांकि, पुलिस की ओर से भी अपने स्तर पर जांच की जा रहा है. कहा जा रहा है कि झाड़िय़ों में मिली सरकारी दवाइयों में बैच 55 व 56 नंबर अंकित है और यह गर्भवती व बच्चों को दी जाती हैं. विभाग द्वारा जारी की जानकारी को आधार मानकर कहा जा सकता है कि दोनों बैचों की लगभग 41 हजार बोतलें अलग अलग अस्पतालों व आंगनबाड़ी के साथ साथ अन्य संस्थानों में जारी की गई थी.

33861 medicine reuters

झाड़िय़ों में मिली दवाइयां, किसने फेंकी..?

cd

झाड़िय़ों में मिली दवाइयां किस अस्पताल या फिर संस्था को अलॉट की गई हैं, इस मामले की जांच करने के लिए डिप्टी सीएमओ गौरव भारद्वाज की अध्यक्ष में तीन सदस्यों की कमेटी बनाई है कहा जा रहा है कि इसमें कुल 17 टीमें गठित की हैं. जिनसे विभाग की तरफ से स्टॉक व अन्य रिकार्ड के साथ साथ रिपोर्ट भी जमा करने के लिए कहा गया है.मांगी है. हालांकि, जांच के बाद ही विभाग की तरफ से हुई लापरवाही से पर्दा उठाया जा सकता है.

हमें Google News पर फॉलो करे- क्लिक करे! हरियाणा में कोरोना से जुडी ताज़ा खबरों के लिए अभी जाए कोरोना केस हरियाणा ताज़ा खबर पर.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *