हरियाणा पंचायत चुनाव को लेकर बड़ी खबर, 22 जुलाई को होगा फाइनल मतदाता सूची का प्रकाशन

चंडीगढ़ | हरियाणा में पंचायत चुनावों की तैयारियां जोरो पर चल रही है. चुनाव आयोग इन चुनावो को लेकर कई तरह के इंतजाम करने में जुटा है. वही राज्य चुनाव आयोग आगामी 22 जुलाई को मतदाता सूचियों का अंतिम प्रकाशन कर देगा. यह सूचियां 16 मई 2022 तक की विधानसभा मतदाता सूची में दर्ज मतदाताओं को पंचायत वार्डो में बांटकर तैयार की गई है. चुनाव आयोग ने पंचायत चुनावों को दो चरणों में कराने का फैसला लिया है. जिसमे पहले चरण में सरपंच और पंच के लिए जबकि दूसरे चरण में जिला परिषद और बीडीसी सदस्यों के लिए मतदान होगा. ये पंचायत चुनाव 71 हजार 763 पदों पर कराये जायेंगे.

ट्रेंडिंग-  Haryana Weather Update: मौसम विभाग का अलर्ट, हरियाणा के इन जिलों में अगले 3 घंटों में होगी बारिश

Panchayat Election Voting

बता दें जिस व्यक्ति का नाम 16 मई तक विधानसभा की मतदाता सूची में दर्ज था और किसी वजह से पंचायत की वोटिंग लिस्ट में आने से रह गया है. ऐसे व्यक्तियों को अपना नाम पंचायत की मतदाता सूची में दर्ज कराने के लिए प्रारूप के रूप में आवेदन करना होगा. जिसको उपायुक्त और जिला निर्वाचन अधिकारी (पंचायत) या उनके द्वारा प्राधिकृत किसी अधिकारी को देना होगा. वही मतदाता सूचियों के प्रकाशन में आपत्तियों को सुनने की प्रक्रिया के बाद ही पंचायत चुनाव का शेड्यूल जारी किया जायेगा.

महिलाओं को मिला आरक्षण

पंचायत चुनावो में इस बार महिलाओं को 50 फीसदी आरक्षण की व्यवस्था की गई है. महिलाओ के लिए सम नंबर 2-4-6 के हिसाब से वार्ड आरक्षित होंगे, जबकि पुरुषों के लिए विषम नंबर 1-3-5 के तहत वार्ड आरक्षित होंगे. वही 1 हजार मतदाताओं पर मतदान केंद्र होगा. इसके साथ ही इस बार इन चुनावों में महिलाओं और एससी उमीदवारों के लिए आरक्षण रहेगा. जबकि पिछड़े वर्ग के लिए चुनाव आयोग ने आरक्षण की कोई व्यवस्था नहीं की है. यानि इस वर्ग को  बिना आरक्षण के चुनाव देने होंगे. दो चरणों में कराये जाने वाले इन पंचायत चुनावों में पहले चरण का चुनाव अगस्त-सितंबर और दूसरे चरण का चुनाव नवंबर-दिसंबर में हो सकता है.

ट्रेंडिंग-  Haryana Monsoon Update: हरियाणा में इन दो दिन होगी लगातार बारिश, मौसम विभाग ने दी चेतावनी

77 हजार से भी ज्यादा EVM इस्तेमाल 

बता दें पंचायत चुनावों में 77 हजार से भी ज्यादा ईवीएम (EVM) इस्तेमाल किये जा सकते है. जिसमे गुजरात से 20 हजार, उत्तर प्रदेश से 5 हजार, और हिमाचल प्रदेश से 496 ईवीएम आएंगे. हरियाणा राज्य निर्वाचन आयोग ने 52083 ईवीएम भारतीय चुनाव आयोग से ली है. जबकि 5 हजार ईवीएम हरियाणा की स्वयं की है.

हमें Google News पर फॉलो करे- क्लिक करे! हरियाणा से जुडी ताज़ा खबरों के लिए अभी जाए Haryana News पर.