हरियाणा सरकार का बड़ा फैसला, अब सिंगल पुरुष सरकारी कर्मचारियों को भी मिलेगी 2 साल की चाइल्ड केयर लीव

चंडीगढ़ | हरियाणा सरकार ने सिंगल पुरुष सरकारी कर्मचारियों की चाइल्ड केयर लीव को लेकर एक बड़ा फैसला लिया है. जिसके अंतर्गत अब सिंगल पुरुष सरकारी कर्मचारियों को भी 2 साल की चाइल्ड केयर लीव देने का निर्णय लिया गया है. हरियाणा सीएम मनोहर लाल की अध्यक्षता में हुई मंत्रिमंडल की बैठक के दौरान हरियाणा सिविल सेवा (अवकाश) नियम, 2016 के संशोधन को मंजूरी दी गई है. जिसके तहत एकल पुरुष की चाइल्ड लीव पर ये फैसला लिया गया है. यह नियम हरियाणा सिविल सेवा (अवकाश) प्रथम संशोधन नियम, 2022 कहलायेंगे.

Manohar Lal Khattar CM Haryana

बता दें इस संशोधन नियम के अनुसार कोई भी सिंगल पुरुष सरकारी कर्मचारी (अविवाहित, तलाकशुदा या विधुर) और महिला कर्मचारी 18 साल की उम्र तक अपने बच्चों की देखरेख के लिए अपनी नौकरी की पूरी सेवा के दौरान अधिकतम दो साल यानि 730 दिन की चाइल्ड केयर लीव ले सकते है. जबकि दिव्यांग बच्चो के मामले में उम्र की कोई सीमा नहीं है.

वही हरियाणा सरकार के इस फैसले के बाद सिंगल पुरुष और महिला सरकारी कर्मचारी को काफी राहत मिलेगी. इससे वो अपने बच्चों की अच्छी तरह देखभाल कर सकेंगे. हरियाणा सरकार के इस फैसले की काफी सराहना की जा रही है. इसके अलावा इस संशोधन के तहत सक्षम चिकित्सा प्राधिकारी द्वारा जारी अपंगता प्रमाण पत्र के अनुसार 40 प्रतिशत से अधिक अपंगता और दिव्यांग बच्चा पूरी तरह से महिला या एकल पुरुष सरकारी कर्मचारी पर निर्भर है, तभी इसका लाभ दिया जायेगा.

हमें Google News पर फॉलो करे- क्लिक करे! हरियाणा से जुडी ताज़ा खबरों के लिए अभी जाए Haryana News पर.