किसानों और पुलिस के बीच मीटिंग जारी, सुप्रीम कोर्ट ने पुलिस पर छोड़ा है यह फैसला

नई दिल्ली | नए कृषि कानूनों के खिलाफ आंदोलन कर रहे किसान अब 26 जनवरी को दिल्ली में ट्रैक्टर रैली निकालने कि बात पर अड़े हुए है. साथ ही, पुलिस उन्हें ट्रेक्टर रैली न निकालने के लिए मनाने में जुटी हुई है. आपको बता दे कि ट्रेक्टर रैली को लेकर आज भी किसानों की पुलिस के साथ मीटिंग चल रही है.

Kisan Andolan

जैसा कि आप सभी जानते है कि ट्रैक्टर रैली पर रोक लगाने के लिए केंद्र सरकार की तरफ से दिल्ली पुलिस ने सुप्रीम कोर्ट में याचिका भी लगाई थी लेकिन, इस अर्जी को बुधवार को ही वापस लेना पड़ा क्योंकि, कोर्ट ने इस मामले पर दखल देने से साफ़ मना कर दिया. सुप्रीम कोर्ट ने सरकार से कहा कि किसानों का प्रदर्शन रोकने का हम किसी भी तरह का कोई आदेश जारी नहीं कर सकते है. इस बारे में पुलिस को ही सोचकर फैसला लेने दें, क्योंकि यह मसला कानून-व्यवस्था से जुड़ा हुआ है. अभी देखना यह होगा कि पुलिस इस बारे में क्या संज्ञान लेती है.

दिल्ली पुलिस के ये है तर्क

  • कोई भी रैली या ऐसा विरोध जो गणतंत्र दिवस समारोह में विघन डालने की कोशिश करता है, वह देश को शर्मिंदा/ झकझोर करने वाला होगा.
  • इससे दुनियाभर में हमारे भारत देश की बदनामी भी होगी. साथ ही, इससे कानून-व्यवस्था भी ख़राब होगी.
  • अलग-अलग रिपोर्ट्स का हवाला दिया जा रहा है कि कई किसान गणतंत्र दिवस की परेड में खलल डालने के लिए लाल किले तक पहुंचने की भी तैयारी पूरी कर चुके हैं.

हमें Google News पर फॉलो करे- क्लिक करे! हरियाणा में कोरोना से जुडी ताज़ा खबरों के लिए अभी जाए कोरोना केस हरियाणा ताज़ा खबर पर.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *