बजट सत्र : नशाखोरी पर सख्त हरियाणा सरकार, अप्रतिबंधित नशे की दवाओं पर लगाएगी प्रतिबंध

पंचकुला | वर्तमान समय में नशाखोरी के लिए इस्तेमाल की जा रही अप्रतिबंधित नशे की दवाओं को हरियाणा सरकार प्रतिबंधित करने का फ़ैसला ले चुकी है. बता दें कि सरकार को अब सिर्फ़ खाद्य एवं औषधि प्रशासन विभाग की जांच रिपोर्ट का इंतजार है. इस मामले में चार फरवरी 2021 को चंडीगढ़ में पहली राज्य स्तरीय (एन- कोर्ड) समन्वय बैठक का आयोजन किया जा चुका है.

नशा

ऐसे में गृह मंत्री अनिल विज ने यह जानकारी विधान सभा में सदन पटल पर विस्तार पूर्वक रखी है. कहा जा रहा है कि

chandigarh 1615524614

नूंह से कांग्रेस विधायक आफताब अहमद ने सरकार से तारांकित प्रश्न में नशे पर रोक लगाने के लिए उठाए गए कदमों के मामले पर प्रकाश डालते हुए ख़ास तौर पर जानकारी की मांगी रखी थी. इस दौरान विज ने बताया है कि नशे के लिए उपयोग की जा रही अप्रतिबंधित दवाएं सरकार के ध्यान में हैं.

Dope Reuters

बिना पर्ची के नशा वाली दवाओं की बिक्री पड़ सकती है महंगी

20190401 211451 jtz2mlsa

एंटी नारकोटिक्स सेल बिना पर्ची के दवाओं की बिक्री करने वाले असामाजिक तत्वों पर लगातार अपनी नजरें बनाए हुए हैं. यहां पर हम आपको मुख्य रूप से जानकारी देते हैं कि यह असामाजिक तत्व उन दवाओं को ही बेचते हैं, जिनका इस्तेमाल नशे के लिए किया जाता है. इस मामले के बाद अब ऐसे लोगों को चोरी- छिपे दवा बेचना काफ़ी ज्यादा महंगा पड़ सकता है.

haryana assembly manohar lal khattar 1508938850

बीते पांच वर्ष में अलग अलग एक्ट के अंतर्गत दर्ज हुए मामले

20190401 211451 jtz2mlsa 1

  • 25 साल तक के युवाओं के खिलाफ मादक द्रव्य और पदार्थ अधिनियम, औषधि एवं प्रसाधन सामग्री अधिनियम के अंतर्गत – 3049
  • एनडीपीएस एक्ट के अंतर्गत – 15821
  • नशे के आदतन व्यक्तियों के खिलाफ – 62
  • औषधि एवं प्रसाधन सामग्री अधिनियम के तहत – 124

हमें Google News पर फॉलो करे- क्लिक करे! हरियाणा में कोरोना से जुडी ताज़ा खबरों के लिए अभी जाए कोरोना केस हरियाणा ताज़ा खबर पर.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *